सेहत दस्तक व्रती डोसा

जायका- 
 

नवरात्रों में नौ दिनों का व्रत होता है।ऐसे में व्रत के दौरान प्रतिदिन एक ही तरह का व्रती फलाहार करना किसको पसंद होगा। आइये! इस नवरात्रि कुछ स्पेशल ट्राई करें।

समा चावल (व्रती चावल) डोसा-       

 सामग्री –       

 समा के चावल -1 कप

सिघाड़े का आटा – आधा कप

घी – 2-3 टेबल स्पून

सेंधा नमक – आधा छोटी चम्मच

काली मिर्च पाउडर – 1/4 छोटी चम्मच

हरा धनियां – 2-3 टेबल स्पून

घी में तली आलू पिठी सैंधा नमक मिली

चटनी के लिए सामग्री

ताजा हरा नारियल – 1 कप कद्दूकस किया हुआ

दही – 1/2 कप

सेंधा नमक – 3/4 छोटी चम्मच

साबुत काली मिर्च – 1/2 छोटी चम्मच

तिल – 1 छोटी चम्मच

घी – 1 छोटी चम्मच

  •  

    नारियल, दही, सेंधा नमक, काली मिर्च मिक्सर में डालकर बारीक होने तक पीस लीजिए।

     

    चटनी में तड़का लगाने के लिए  घी डालकर गरम कर लीजिए, गरम घी में तिल डालकर, हल्के ब्राउन होने तक भून लीजिए और इस तड़के को चटनी में मिला दीजिए।

    विधि –

  • डोसे बनाने के लिए समा के चावल को साफ करके, धोकर 3 घंटे के लिए पानी में भिगो दीजिए। अब चावल से पानी निकाल दीजिए और चावल को मिक्सर में डालिए और थोड़ा सा पानी डालकर चावल को पीस कर तैयार कर लीजिए, चावल के पेस्ट को कटोरी में निकालिए और सिघाड़े का आटा डालकर मिलाइए, बैटर गाड़ा है तो इसमें पानी डालिए और डोसे के लिए इतना पतला कर लीजिए कि उसे तवे पर आसानी से फैलाया जा सके, बैटर में सेंधा नमक, काली मिर्च, और थोड़ा सा हरा धनियां डालकर मिक्स कर लीजिए। बैटर को 10-15 मिनिट के लिए ढ़ककर रख दीजिए, ताकि ये फूल कर तैयार हो जाय।तवे को गरम कीजिए, घी लगाकर चिकना कर लीजिए, 1-2 चम्मच बैटर डालिए और पतला डोसा फैलाइए, डोसे के चारों ओर थोड़ा थोड़ा घी डालिए, थोड़ा सा घी डोसे के ऊपर डालिए, डोसे को निचली सतह को हल्का ब्राउन होने तक सिकने दीजिए,  फिर उसमें घी में तली हुई दो बडे चम्मच आलू पिठी रखें। सिकने पर डोसे को पलट दीजिए और दूसरी ओर भी सुनहरे होने तक सिकने दीजिए, डोसा सिक कर तैयार है, डोसे को उतार कर किसी प्लेट में नारियल चटनी के साथ सर्वे करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *