यद्यपि भारत शांति का समर्थक है, लेकिन –


यद्यपि भारत शांति का समर्थक है, लेकिन भारत राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए कोई भी आवश्यक कदम उठाने में नहीं हिचकेगा-


नई दिल्ली, 29 जनवरी 2019, सच की दस्तक न्यूज़।

प्रधामंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज नई दिल्ली में एनसीसी रैली को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि जब वह एनसीसी कैडेटों के बीच होते हैं पुरानी यादों से भर जाते हैं।

उन्होंने प्रसन्नता व्यक्त की कि पिछले एक वर्ष में एनसीसी के कैडेट स्वच्छ भारत अभियान, डिजिटल लेन-देन जैसे अनेक महत्वपूर्ण कार्यक्रमों से जुड़े हैं। उन्होंने कहा कि केरल की बाढ़ के दौरान राहत और बचाव कार्यों में एनसीसी कैडेटों का योगदान प्रशंसनीय है।

प्रधानमंत्री ने कहा की आज पूरा विश्व भारत को एक चमकते सितारे के रूप में देख रहा है। उन्होंने कहा कि यह माना जाने लगा है कि भारत के पास न केवल क्षमता है बल्कि भारत क्षमताओं को पूरा भी कर रहा है।

उन्होंने कहा कि अर्थव्यवस्था हो या रक्षा भारत की क्षमताओं का विस्तार हुआ है। उन्होंने कहा कि यद्यपि भारत शांति का समर्थक है, लेकिन भारत राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए कोई भी आवश्यक कदम उठाने में नहीं हिचकेगा। उन्होंने कहा कि पिछले साढे चार वर्षों में रक्षा और सुरक्षा के लिए अनेक महत्वपूर्ण निर्णय लिये गए हैं। उन्होंने कहा कि भारत उन कुछ देशों में से है जिन्होंने त्रीपक्षीय परमाणु क्षमता का विकास किया है। उन्होंने कहा कि युवा अपने सपनों को तभी साकार कर सकते हैं जब देश सुरक्षित रहेगा।

उन्होंने कैडेटों के कठिन परिश्रम की सराहना की। अनेक कैडेट गांव और छोटे शहरों से आते हैं। उन्होंन कहा कि एनसीसी के अनेक कैडेटों ने देश को गौरवान्वित किया है। इस संदर्भ में उन्होंने प्रसिद्ध एथलिट हीमा दास का उल्लेख किया। उन्होंने कहा कि कठिन परिश्रम और प्रतिभा सफलता तय करते हैं। उन्होंने कहा कि सरकार देश में वीआईपी संस्कृति के स्थान पर ईपीआई यानी एवरी पर्सन इज इम्पॉर्टेंट (प्रत्येक व्यक्ति महत्वपूर्ण है) संस्कृति लाने का प्रयास कर रही है। उन्होंने कैडेटों से सभी तरह की नकारात्मकता को टालने और स्वयं तथा देश की बेहतरी के लिए काम करने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि महिलाओं को अवसर प्रदान करने के लिए और कार्यबल में उनकी भागीदारी बढ़ाने के लिए अनेक कदम उठाए जा रहे हैं। उन्होंन कहा कि महिलाएं पहली बार भारतीय़ वायु सेना में लड़ाकू पायलट बनी हैं।

प्रधानमंत्री ने दृढ़तापूर्वक कहा कि भ्रष्टाचार नए भारत का हिस्सा नहीं हो सकता। उन्होंन कहा कि भ्रष्टाचार में शामिल लोगों को बख्शा नहीं जाएगा।

प्रधानमंत्री ने स्वच्छ भारत और डिजिटल कार्यक्रमों में युवाओं की सक्रिय भागीदारी की सराहना की। उन्होंने कैडेटों से सरकार की कल्याणकारी योजनाओं के बारे में जागरूकता फैलाने का आग्रह किया। उन्होंने कैडेटों से कहा कि वे आगामी चुनाव में बड़ी संख्या में वोट डालने के लिए युवाओं को प्रेरित करें।

उन्होंने कहा कि हाल में दिल्ली शहर में विकसित अनेक ऐतिहासिक स्थलों को कैडेट देख सकेंगे। ये स्थल भारत की विरासत और महान नेताओं से जुड़े हैं। इस संदर्भ में उन्होंने लाल किले में क्रांति मंदिर और अलीपुर रोड में बाबा साहब भीम राव अम्बेडकर के महापरिनिर्वाण स्थल का उल्लेख किया। उन्होंने कहा कि इस स्थानों को देखकर लोगों में काम करने की नई ऊर्जा भर आएगी।

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x