आज कर लीजिये सबसे अद्भुत चन्द्र दर्शन, अब 2555 दिन बाद दिखेगा ऐसा नजारा

आज माघ पूर्णिमा है। हिंदू धर्म में माघ पूर्णिमा का दिन का विशेष महत्व होता है। वैसे तो पूर्णिमा पर चांद का विशेष महत्व होता है, लेकिन आज माघ का चांद खगोलीय घटना के लिहाज से भी बहुत खास होगा। वैज्ञानिकों के अनुसार आकाश में ऐसा खूबसूरत चांद अब 2555 दिनों बाद दिखेगा। ऐसे में आज चांद के दीदार का मौका खोया तो लंबे समय तक पछताना पड़ेगा।

आज आकाश में साल का सबसे बड़ा चांद दिखेगा। खगोल वैज्ञानिकों के अनुसार आज रात का चांद बेहद विशाल और बहुत खूबसूरत होगा। वैज्ञानिकों के अनुसार चांद का ये अनोखा स्वरूप केवल पूर्णिमा की वजह से ही नहीं, बल्कि एक खास खगोलीय वजह से दिखेगा। इस वजह से वैज्ञानिक इस खगोलीय घटना को सुपर स्नो मून (Super Snow Moon) कह रहे हैं। दुनिया के कुछ देशों में इस खगोलीय घटना को स्ट्रॉम मून (Storm Moon) या हंगर मून (Hunger Moon) या बोन मून (Bone Moon) कह रहे हैं।

अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा के अनुसार सुपर स्नो मून तब होता है, जब पूर्णिमा के दिन चांद-धरती के सबसे नजदीक होता है। इस वजह से इसका आकार और रोशनी आम पूर्णिमा के चांद के मुकाबले काफी ज्यादा होता है। इस दौरान चांद ज्यादा चमकीला और बड़ा दिखाई देता है। इसलिए इस खगोलीय घटना को सुपर स्नो मून कहा जाता है।

भारत में इस वक्त दिखेगा सुपर स्नो मून
भारत समेत ये सुपर स्नो मून दुनिया के कई देशों में दिखेगा। सुपर स्नो मून का समय आज रात नौ बजकर 23 मिनट से शुरू होगा। भारत में सुपर स्नो मून आज (19 फरवरी 2019) की शाम 6:30 बजे, मुंबई में 5:20 बजे और कोलकाता में सूरज डूबने के बाद देखा जा सकता है। सुपर स्नो मून का समय रात 11 बजकर 23 मिनट तक बताया जा रहा है। वैज्ञानिकों के अनुसार इन दिनों मौसम करवट ले रहा है। लिहाजा मौसम के अनुसार सुपर स्नो मून के समय में परिवर्तन भी हो सकता है।

सात साल बाद दिखेगा ऐसा चांद
वैज्ञानिकों के अनुसार अगले सुपर स्नो मून का नजारा आज के बाद करीब सात साल (लगभग 2555 दिन) बाद दिसंबर 2026 में दिखेगा। दुनिया भर में लोग इस खूबसूरत चांद को मोबाइल या कैमरे के जरिए तस्वीरों में कैद करते हैं और सोशल मीडिया पर शेयर करते हैं। इससे पहले हुए सुपर स्नो मून की कई खूबसूरत तस्वीरें और वीडियो सोशल मीडिया पर देखी जा सकती हैं। इस दौरान चांद अपने सामान्य आकार से लगभग 14 फीसद बड़ा और 30 प्रतिशत ज्यादा चमकीला दिखेगा। वैज्ञानिकों के अनुसार चांद के पूरे आकार और रोशनी को देखने के लिए दूरबीन या टेलिस्कोप की मदद ली जा सकती है।

पिछले महीने हुआ था सुपर ब्लड मून
इससे पहले 21 जनवरी 2019 में अमेरिका के कुछ हिस्सों में सुपर ब्लड मून (Super Blood Moon) या सुपर वुल्फ ब्लड मून (Super wolf Blood Moon) का भी अद्भुत नजारा देखने को मिला था। वैज्ञानिकों के अनुसार आज दिखने वाला सुपर स्नो मून, पिछले महीने दिखे सुपर ब्लड मून से भी आकार में बड़ा और चमकीला होगा।

वैज्ञानिकों के अनुसार इस बार के सुपर स्नो मून का चांद, पिछले तीन सुपर स्नो मून के चांद से भी आकार में बड़ा दिखेगा। 

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x