भोपाल नगर निगम प्रतिनियुक्ति पर आए अधिकारियों की पौबारह – 


 मध्यप्रदेश भोपाल के नगर निगम में आचार संहिता में उन अधिकारियों की बल्ले बल्ले हो गई जो यहां पर प्रतिनियुक्ति पर आए थे अब यही के होकर रह गए जनवरी से पहले अधिकारियों को ना तो निगम से हटाया जा सकता है और ना ही नए को बुलाया जा सकता है गौरतलब है की निगम में प्रतिनियुक्ति पर आए कर्मचारियों और अधिकारियों के संबंध में सवाल उठते हैं कुछ अधिकारी 3 साल की प्रतिनियुक्ति अवधि खत्म होने पर उस दिनों के लिए अपने मूल विभाग लौटते हैं और फिर नगर निगम में वापस आ जाते हैं निगम के बारे में कहा जाता है की एक बार जो यहां पर आ जाता है उसका वापस जाने का मन ही नहीं होता है स्मार्ट सिटी के सीईओ संजय कुमार का नाम भी है यह पहले अपर आयुक्त थे लेकिन बाद में वापस चले गए थे बाद में स्मार्ट सिटी सेल में सीओ बनकर वापस आ गए अधिकारियों ने कंप्यूटर ऑपरेटर की भर्ती भी कर ली। 


भोपाल नगर निगम में सालों से जमे है यह अधिकारी


अर्चना बाखले/ सहायक यंत्री/4 सितंबर1993 से
ओपी भरद्वाज सहायक यंत्री/11 सितंबर1998 से/ हर्षित तिवारी जोनल अधिकारी19 जनवरी1998 से
ए ए खान उपयंत्री30 जनवरी1999 से
प्रदीप बड़ैया उपयंत्री 4 अक्टूबर1997 से
सुधा भार्गव उपयंत्री 6 अक्टूबर2006 से
ए आर पवार इंजीनियर 6 जनवरी2012 से

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x