वृक्षारोपण कर राष्ट्रकवि दिनकर को किया गया याद

सच की दस्तक डेस्क चन्दौली

राष्ट्र कवि रामधारी सिंह दिनकर के जन्म दिन पर वृक्षारोपण का कार्यक्रम पं दीनदयाल उपाध्याय नगर के कलश मंडप ,सिद्धार्थपुराम कॉलोनी के नव निर्माण मंदिर परिसर में ब्रह्मऋषि समाज के लोग द्वारा किया गया।जिसमें राष्ट्रकवि के जीवनी पर विचार व्यक्त किया गया।
साहित्यकारों ने बताया कि राष्ट्र कवि रामधारी सिंह दिनकर की रचना उर्वसी,हिमालय,हुंकार,कुरुछेत्र जैसी प्रमुख रचना समाज मे एक नई दिशा प्रदान करती है।।दिनकर न केवल कवि थे अपितु एक प्रमुख निबन्धकार एवं कविता के रचयिता थे।इनका जन्म 23 sep 1908 को सीमारिया में हुआ था।
इनकी मृत्यु 24 अप्रैल 1974 में बेगूसराय, बिहार में हुवा था।इनकी कविता आजादी के दौरान लोगो मे जोस पैदा कर जागरूक किया ।ये छाया उत्तरोत्तर के पहले पीढ़ी के कवि थे।इनकी कविताओं में ओज, विद्रोह,आक्रोश,ओर क्रांति की पुकार दिखती है।वही दूसरी ओर कोमल श्रृंगार की अभिब्यक्ति दिखती है।
श्रद्धा सुमन अर्पित करने के बाद ब्रह्मऋषि समाज के लोग वृक्षारोपण किया गया इस दौरान समाज के अध्यक्ष शिव गोविन्द राय , शिवशंकर राय ( डब्लू राय ),अजय राय, संजय राय, पवन सिंह, सतीश राय,विजय बहादुर ,जयनाथ शर्मा जी,राकेश कान्त राय , तारकेश्वर राय , के के राय , शिवम उपाध्याय, अभिषेक सिंह, पंकज राय आदि प्रमुख लोग उपस्थित थे।

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x