केन्द्रीय सतर्कता आयोग ने राकेश पाण्डेय जी को किया सम्मानित –

नई दिल्ली – 

केन्द्रीय सतर्कता आयोग ने राकेश पाण्डेय जी को उनके जनहित में उत्कृष्ट कार्यों के लिये सम्मानित किया ।

सच की दस्तक से बात में श्री राकेश पांडेय जी ने बताया कि वह इस सम्मान के लिए CVC को धन्यवाद करते हैं

 

 

और वह हर आम आदमी की आवाज बन कर समाजपयोगी कार्य करके राष्ट्रहित में आजीवन समर्पित रहेगें। 

क्या है भारतीय केन्द्रीय सतर्कता आयोग (Central Vigilance Commission (CVC)) – 

भारत का केन्द्रीय सतर्कता आयोग (Central Vigilance Commission (CVC)) भारत सरकार के विभिन्न विभागों के अधिकारियों/कर्मचारियों से सम्बन्धित भ्रष्टाचार नियंत्रण की सर्वोच्च संस्था है। इसकी स्थापना सन् १९६४ में की गयी थी। इस आयोग के गठन की सिफारिश संथानम समिति(1962-64) द्वारा की गयी थी जिसे भ्रष्टाचार रोकने से सम्बन्धित सुझाव देने के लिए गठित किया गया था। केन्द्रीय सतर्कता आयोग सांविधिक दर्जा (statutory status) प्राप्त एक बहुसदस्यीय संस्था है।
केन्द्रीय सतर्कता आयोग किसी भी कार्यकारी प्राधिकारी के नियन्त्रण से मुक्त है तथा केन्द्रीय सरकार के अन्तर्गत सभी सतर्कता गतिविधियों की निगरानी करता है। यह केन्द्रीय सरकारी संगठनो मे विभिन्न प्राधिकारियों को उनके सतर्कता कार्यों की योजना बनाने, निष्पादन करने, समीक्षा करने तथा सुधार करने मे सलाह देता है।

केन्द्रीय सतर्कता आयोग विधेयक संसद के दोनो सदनों द्वारा वर्ष 2003 में पारित किया गया जिसे राष्ट्रपति ने 11 सितम्बर 2003 को स्वीकृति दी। इसमें एक केन्द्रीय सतर्कता आयुक्त जो कि अध्यक्ष होता है तथा दो अन्य सतर्कता आयुक्त (सदस्य जो दो से अधिक नही हो सकते) होते हैं।

सच की दस्तक की टीम की तरफ़ से श्री राकेश पांडेय जी को हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं। 

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x