चीन ने की पीएम मोदी को लोकसभा चुनाव जिताने की पेशकश,अगर ऐसा हुआ तो….


नई दिल्‍ली :       


लोकसभा चुनाव में जहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनकी पार्टी बीजेपी को हराने के लिए विपक्षी दल एक हो रहे हैं तो वहीं चीन ने कहा है कि वो मोदी को चुनाव जीता सकते हैं।


ग्लोबल टाइम्स का दावा-   


चीन की सरकारी मीडिया ग्लोबल टाइम्स ने कहा है कि भारत में रोजगार में वृद्धि करने में उसका देश भारत की मदद कर सकता है।

ग्लोबल टाइम्स ने कहा है कि अगर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भारत में चीनी निवेश को बढ़ावा देते हैं,तो इससे ज्यादा से ज्यादा रोजगारों का सृजन होगा, जिसका फायदा मोदी को आम चुनाव में मिलेगा। 

बीजेपी के चुनावी वादे के अनुकूल रोजगार न पैदा होने से विपक्षी दल केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर हमलावर है।विपक्ष् महागठबंधन के जरिए बीजेपी को लोकसभा चुनाव 2019 में मात देने की तैयारी में है।

विपक्ष के बड़े नेता पिछले दिनों कोलकाता में एक मंच पर इकट्ठा भी हुए थे और सब ने मोदी सरकार को उखाड़ फेंकने का संकल्‍प लिया था।

इस मंच से बेरोजगारी काे भी एक प्रमुख मुद्दा बनाया गया।बताया गया कि देश में बेरोजगारी कम नहीं हुई।

अगर ग्लोबल टाइम्स के दावों की बात करें तो चीन में रोजगार की कोई कमी नहीं है,जिसका कारण यह है कि वहां मैन्युफैक्चरिंग के क्षेत्र में बड़े-बड़े काम हो रहे हैं। 

ऐसे में चीन की सरकारी मीडिया ग्लोबल टाइम्स ने कहा है कि रोजगार पैदा करने में चीन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मदद कर सकता है। 

China’s government media Global Times has said that its country can help India to increase employment in India.

The Global Times has said that if Prime Minister Narendra Modi fosters Chinese investment in India, then more employment will be created, which will benefit Modi in the general elections.

The Opposition is an attacker on the Narendra Modi government, due to the non-employment of BJP, which is not suited to the election promises.

The opposition is in the process of defeating BJP in the Lok Sabha elections 2019 through the alliance.

The big leaders of the Opposition were gathered on a stage in Kolkata recently and all had resolved to overthrow the Modi government.

A major issue of unemployment was also made from this forum. It was reported that unemployment in the country was not reduced.

ग्लोबल टाइम्स ने दावा किया है कि रोजगार की कमी के कारण जनता में मोदी सरकार के प्रति रोष है और यह चीन के लिए अच्छी खबर नहीं है, क्योंकि चीन चाहता है कि मोदी फिर सत्ता में आएं।

हमें उम्मीद है कि मोदी के प्रति लोगों का नजरिया बदलेगा, जिससे वह आर्थिक सुधार और चीन-भारत के आर्थिक संबंध को आगे बढ़ाने के लिए पर्याप्त समर्थन पा सकेंगे।

 

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x