यमुना तट पर स्थित अंत्येष्टि स्थलों पर चला 137 वें चरण का सफाई अभियान ० बृहद पौधारोपण हेतु रूपरेखा तैयार की गई

बृहद पौधारोपण हेतु रूपरेखा तैयार की गई

० जीवनधारा पौधारोपण अभियान में 5100 पौधों का होगा पौधारोपण

० सर्वाधिक आक्सीजन देने वाले पौधों को लगाने हेतु सहमति बनी

एक विचित्र पहल सेवा समिति रजि. औरैया द्वारा स्वच्छता अभियान व यमुना तट के सौंदर्यीकरण हेतु यमुना तट पर स्थित श्मशान घाटों पर अनवरत सफाई अभियान चलाया जा रहा हैं, जिसके अंतर्गत आज दिनांक 29 मई 2022 दिन रविवार को प्रातः 7 बजे से अंत्येष्टि स्थलों पर 137 वें चरण का सफाई अभियान चलाया गया, समिति के सदस्यों ने सफाई यंत्रों के सहयोग से लगभग तीन कुंतल कचरा-अपशिष्ट आग द्वारा नष्ट किया, उसके उपरांत यमुना तट पर स्थित प्रतिक्षालय में आवश्यक बैठक का आयोजन किया गया, बैठक में सर्वसम्मति से सार्वजनिक स्थानों पर छायादार व सर्वाधिक आक्सीजन देने वाले अधिक से अधिक पौधों का पौधारोपण कराने हेतु सर्वसम्मति से विचार-विमर्श किया गया।

बैठक में समिति के संस्थापक आनन्द नाथ गुप्ता एडवोकेट ने बताया कि समिति द्वारा शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों के सार्वजनिक स्थानों पर जीवनधारा पौधारोपण अभियान के अंतर्गत 5100 पौधों के पौधारोपण का लक्ष्य निर्धारित किया गया है, उन्होंने बताया कि पौधा लगाना तो बहुत आसान है, लेकिन उनकी सुरक्षा करना बहुत ही मुश्किल, पौधों की देखभाल तो नन्हे बच्चों की तरह होती है।

पौधारोपण अभियान के अंतर्गत समिति द्वारा चिन्हित करके उन्हीं स्थानों पर पौधारोपण किया जाता है, जिनको निरंतर पानी व उनकी बेहतर देखभाल के साथ उनकी पूर्ण सुरक्षा हो सके, पर्यावरण संरक्षण को दृष्टिगत रखते हुए शहर के तमाम जागरूक नागरिकों व महिलाओं ने समिति द्वारा संचालित बृहद पौधारोपण अभियान में बढ़-चढ़कर सहभागिता करने का भरोसा दिया। स्थल यमुना तट के सौंदर्यीकरण व उसके आसपास के वातावरण को हरा-भरा रखने हेतु विशेष पौधारोपण अभियान चलाया जाएगा।

बैठक के उपरांत श्री अतुल पोरवाल (अभिकर्ता भारतीय जीवन बीमा निगम) कानपुर ने समिति द्वारा संचालित वैकुंठ रथ सेवा की वार्षिक सदस्यता ग्रहण की, जबकि बैकुंठ रथ की सदस्यता ग्रहण करने वाले श्री जयप्रकाश पोरवाल व श्री दिनेश शिवहरे को मौजूद सदस्यों ने पटका पहनाकर उनका हृदय से अभिनंदन किया।

समिति के संस्थापक ने बताया कि लोगों को प्रसन्नचित्र रहते हुए उत्तम स्वास्थ्य के लिए हंसना बहुत जरूरी है, गौरतलब है कि मानसिक तनाव के चलते बहुतायत लोग हंसने के लिए मजबूर हैं, इसलिए बैठक के समापन पर श्री देवेंद्र आर्य द्वारा हास्य योग कराया गया, जिसमें लोग हा-हा करते हुए खिल खिलाकर हंसते रहे।

अभियान व बैठक में प्रमुख रूप से राकेश गुप्ता (बैंक वाले), सभासद छैया त्रिपाठी, मोहित अग्रवाल(लकी), रानू पोरवाल, मनीष पुरवार (हीरू), कपिल गुप्ता, अनूप बिश्नोई, संजय अग्रवाल, ऋषभ पोरवाल, अर्पित दुबे एडवोकेट, अंकित, रमेश कुमार प्रजापति, सतीश पोरवाल, रज्जन बाल्मीक आदि यमुना मैया के सेवादार मौजूद रहे।

Sach ki Dastak

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x