कांग्रेस घोषणापत्र : गरीबी पर वार, मिलेगें 72हजार –

कांग्रेस 2019 के लोकसभा चुनावों के लिए मंगलवार को अपना घोषणापत्र जारी कर दिया है। कांग्रेस ने अपने घोषणा पत्र को ‘हम निभाएंगे’ का टाइटल दिया है।

इस घोषणापत्र को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने आज दोपहर 12.45 बजे जारी किया और कहा कि घोषणा पत्र के 5 मुख्य बातें हैं। कांग्रेस के घोषणापत्र में इस बार न्यूनतम आय योजना (न्याय) को शामिल किया गया है, इस योजना के तहत गरीबों के खाते में हर साल 72000 रुपए ट्रांसफर करने का वादा किया गया है।

घोषणा पत्र जारी करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि पार्टी का दूसरा थीम रोजगार है। देश में युवाओं को रोजगार नहीं मिल रहा है। दो करोड़ रोजगार नहीं मिले। 22 लाख सरकारी रोजगार, उनको कांग्रेस मार्च 2020 तक भरकर दे देगी। 10 लाख युवाओं को ग्राम पंचायत में रोजगार देगी। 3 साल के लिए देश के युवाओं को स्वरोजगार खोलने के लिए किसी से कोई इजाजत नहीं लेनी होगी।

बीते दिन भी राहुल गांधी ने चुनावी रैली में कहा था कि-

तेलंगाना के जाहिराबाद में चुनावी जनसभा के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने सत्ताधारी तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर जमकर प्रहार करते हुए कहा कि दोनों दलों के बीच पार्टनरशिप है जिसका रिमोट कंट्रोल नरेंद्र मोदी के पास है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि भाजपा गरीब को मिटाती है लेकिन हम गरीबी को मिटाएंगे।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि अगर यूपीए सत्ता में आती है तो जीडीपी का 6 फीसदी शिक्षा में लगाएंगे। हम नए कॉलेज, नए यूनिवर्सिटी, नए इंस्टिट्यूट और सरकारी अस्पताल बनवाएंगे। नफरत मिटाकर देश को जोड़ने का काम करेंगे।

उन्होंने आगे कहा कि अगर आप टीआरएस को वोट करते हैं तो आप नरेन्द्र मोदी और आरएसएस को वोट देने जा रहे हैं। टीआरएस और बीजेपी के बीच पार्टनरशिप है जिसका रिमोट कंट्रोल नरेन्द् मोदी के पास है। राहुल ने जोर देते हुए कहा कि हम गरीबी पर सर्जिकल स्ट्राइक करेंगे जबकि उन्होंने गरीब पर स्ट्राइक किया।

घोषणापत्र में आगें उन्होंने कहा कि उनकी सरकार मनरेगा के तहत दिए जाने वाले रोजगार को भी बढ़ाएगी और मौजूदा सालाना 100 दिन की जगह 150 दिन का रोजगार दिया जाएगा। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि राष्ट्रीय सुरक्षा पर कांग्रेस के घोषणापत्र में कहा गया है कि राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद और NSA के आफिस को वैधानिक आधार प्रदान करेगी। ये सब संसद के प्रति जवाबदेह होंगे।

कांग्रेस के घोषणा पत्र की 10 मुख्य बातें इस तरह से हैं-

  1. 5 करोड़ गरीब परिवारों के खाते में सालाना 72000 रुपए
  2. मनरेगा के तहत रोजगार 100 दिन से बढ़ाकर 150 दिन किया जाएगा
  3. मार्च 2022 तक 22 लाख सरकारी पद भरेंगे
  4. 10 लाख युवाओं को ग्राम पंचायतों में रोजगार दिया जाएगा
  5. राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार को संसद के दायरे में लाएंगे
  6. स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर किया जाएगा
  7. कर्ज वापस नहीं करने पर किसान के खिलाफ़ आपराधिक कार्रवाई नहीं
  8. शिक्षा पर बजट का 6 प्रतिशत होगा खर्च
  9. रेल बजट की तरह किसानों के लिए अलग से बजट पेश किया जाएगा
  10. GST को आसान करेंगे।

इस सब के बावजूद एक बड़ा सवाल कि कश्मीर में 370 नहीं हटेगी यह कैसी नीति है । यह कैसा घोषणापत्र ? 

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x