विधुत कर्मचारी संघर्ष समिति औरैया ने किया कार्य बहिष्कार – 

आज दिनाँक 05/11/2019 को विधुत वितरण खण्ड औरैया के कर्मचारियों ने अपने GPF/CPF की जमा रकम को असुरक्षित निवेश करने तथा निवेशित राशी के डूबने के कारण सभी कर्मचारियों द्वारा शाम 3 बजे से 5 बजे तक विरोध स्वरूप कार्य वहिष्कार किया गया।

विधुत वितरण खण्ड के सभी कर्मचारियों ने कार्य से बहिष्कार करते हुए मुख्यमंत्री जी से मांग की की परिवार के लिए बुढ़ापे में जीवन यापन हेतु पेट काटकर अपने वेतन से जमा की गयी राशी को वापस लाने की सरकार लिखित रूप में आश्वासन दे एवम कर्मचारियों का पैसा वापस करे ।जो अधिकारी इस घोटाले में लिप्त है उन पर कड़ी कार्यवाही कर सेवा से बरखास्त करते हुए जेल भेज कर कानूनी प्रकिया पूरी करते हुए सजा दिलाई जाए। सरकार संज्ञानित है कि ट्रस्ट का अध्यक्ष पावर कारपोरेशन के सी एम डी एवं ऊर्जा सचिव होते है। प्रबंध निदेशक यू0 पी0पी0सी0एल0 एवं निदेशक वित्त आदि होते इन चन्द लोगो ने पूरे प्रदेश को उजाले में रखने वाले परिवारों के घरों में अंधेरा कर दिया।

इस मौके पर नरेन्द्र प्रकाश अधिशाषी अभियंता विधुत वितरण खंड औरैया, शंकर लाल अधिशाषी अभियंता विधुत परीक्षण खंड औरैया,देवी सिंह उपखण्ड अधिकारी विधुत वितरण उप खंड औरैया नगरीय,शेर सिंह उप खण्ड अधिकारी विधुत वितरण उपखण्ड औरैया ग्रामीण, नरेंद्र गौतम अवर अभियंता, आमोद आनन्द अवर अभियंता, विवेक खरे अवर अभियंता, शिवदत्त अवर अभियंता, सुभाष चन्द्र यादव अवर अभियंता ज्ञान प्रकाश अवर अभियंता, सौरभ रावत कार्यकारी सहायक, अजय सोनकर कार्यकारी सहायक, दीपक शर्मा, राहुल शाह,शिवबदन, नेमा, अंजू, सुमन, जितेंद्र कुमार आदि विधुत विभाग कर्मचारी मौजूद रहे।

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x