फौजी का शव पहुचते ही गाव में मचा कोहराम 

सच की दस्तक डेस्क चन्दौली(जितेंद्र मिश्रा)
जनपद चन्दौली।बलुआ थाना क्षेत्र के लक्ष्मनगढ़ पूरवा निवासी सेना के जवान का शव सोमवार की प्रात लगभग 9बजे पहुचते ही गाव में कोहराम मच गया। वही शव को देखते ही परिजन दहाड़े मारकर रोने लगे।  
जानकारी के अनुसार रामलक्षन यादव भारतीय सेना में पंजाब राज्य के भटिण्डा में तैनात थे। जो 15नवम्बर को छुट्टी लेकर घर के लिए रवाना हो गये। जिनका 16नवम्बर को बुडडाला रेलवे स्टेशन के पास रेलवे लाईन पर शव पड़ा देख गैंग मैन ने इसकी सूचना जीआरपी पुलिस को दी। जिसपर जीआरपी पुलिस मौके पर पहुंचकर शव का अपने कब्जे में लेकर जांच पड़ताल में जुट गयी। जेब में मिले कार्ड से इसकी सूचना उनके यूनिट को दी। जिसपर यूनिट के जवान मौके पर पहुंच कर शव का शिनाक्त करते हुए विभाग को सूचना देते हुए परिजनों को जानकारी देते हुए शव का पेस्टमार्टम हेतु पी.एच.टी.एस बुडाला हास्पिटल में कराया गया। सूचना के आधार पर परिजन भी यूनिट पहुच गये। वही सेना के जवानों ने सोमवार को एम्बुलेन्स द्वारा शव को साथ लेकर उनके पैतृक गाव पहुचे। जहा शव को देखते ही पत्नी चिन्ता देवी, माता इन्द्रावती, पिता रामरतन, पुत्र सचिन व संदीप का रो-रोकर बुराहाल हो गया। रामलक्षन यादव यादव 1993 बैच में भर्ती होकर अनवरत देश सेवा में लगे जिनका सेवानिबृत्ति भी दो माह बाद होनी थी कि उनके साथ एक बड़ा हादसा हे गया और परिजनो पर पहाड़ टूट गया। 

  पुलिस प्रशासन की तरफ से सीओ ने दी श्रद्धांजलि
सकलडीहा क्षेत्राधिकारी त्रिपुरारी पाण्डेय शव पहुचते ही उनके घर जाकर श्रद्धान्जली अर्पित की। ंसेना के 134वीं बटालियन के नायब सुबेदार ओमप्रकाश, हवलदार अभिमन्यु, नायक एस0के0मौर्या व गोरखा ट्रेनिंग सेन्टर रेजीमेन्ट वाराणसी के कर्नल अशोक थापा ने भी श्रद्धान्जली देते हुए शव यात्रा निकली जिसमें क्षेत्र के हजारों युवाओं हजारों युवा व गणमान्य गगनभेदी नारे लगाते हुए साथ-साथ चल रहे और बलुआ घाट पहुंचकर अंतिम ंसस्कार कर दिया गया । 

चार दिनो घर में नही जला चूल्हा 
जब से परिजनां को सेना के जवानों द्वारा सूचना मिली कि घटना घटी तभी से पूरा परिवार सशक्ति हो और शव को इंतजार करने लगा भटिण्डा से पैतृक गाव शव चार दिनों बाद आया जिससे घर में चूल्हे नही जले । 
0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x