झंडा दिवस पर पुलिस अधीक्षक ने किया ध्वजारोहण

सच की दस्तक डेस्क चन्दौली

आज का दिन उ0प्र0पुलिस संगठन के लिए बहुत गौरवशाली व ऐतिहासिक दिन है। कहानियाँ व्यक्तित्व को स्थापित करती हैं तथा इतिहास एक संगठन को बनाता है। आज ही के दिन 23 नवम्बर सन् 1952 को भारत के प्रथम प्रधानमंत्री जी द्वारा उत्तर प्रदेश पुलिस को ‘पुलिस कलर'(ध्वज) प्रदान किया गया था। यह ध्वज जहाँ हमारे चरित्र को दर्शाता है वहीं हमारे गौरवशाली इतिहास का प्रतीक भी है। जिससे हमने देश सेवा एवं लोक सेवा में अपने कौशल,शौर्य व कर्तव्यपरायणता से अप्रतिम योगदान दिया है। यह ध्वज हमारे लिए प्रेरणादायी है तथा इस ध्वज के फहराने मात्र से हम सभी में एक नई ऊर्जा का संचार होता है।


उत्तर प्रदेश पुलिस का यह ध्वज हमें पुलिस धर्म को निभाने की प्रेरणा देता है।हम सद्जनों की रक्षा एवं दुष्टता का नाश करने हेतु वर्दीधारण करते हैं हमारे अप्रतिम योगदान के फलस्वरूप ही हमें यह ध्वज प्रदान किया गया है, जो हम सबके लिए गर्व की बात है उ0प्र0पुलिस पूरे भारतवर्ष का प्रथम राज्य पुलिस बल है जिसे पुलिस ध्वज प्रदान किया गया है।
इस अवसर पर पुलिस लाइन चन्दौली प्रांगण में ध्वजारोहण व सलामी के उपरान्त पुलिस अधीक्षक  सन्तोष कुमार सिंह ने सभी पुलिसकर्मियों द्वारा जनसेवा एवं राष्ट्रसेवा में किए जा रहे कार्यों की प्रशंसा करते हुए सभी को इस गौरवशाली दिन के लिए हार्दिक बधाईयाॅ तथा शुभकामनाएँ दी साथ ही उन्होंने कहा कि हमें पूर्ण विश्वास है कि आने वाले समय में आप अपने कर्तव्यों के प्रति सजग रहते हुए अपने दायित्वों का निर्वहन पूरी निष्ठा एवं ईमानदारी से करते हुए इस झण्डे और पुलिस विभाग का मान-सम्मान बनाए रखेंगे साथ ही ओम प्रकाश सिंह पुलिस महानिदेशक उ0प्र0 द्वारा पुलिस विभाग के समस्त अधिकारियों/कर्मचारियों हेतु भेजे गये शुभकांमना संदेश को पढ़ कर सुनाया। जनपद के समस्त थानों व पुलिस कार्यालयों पर भी आज पुलिस कलर के ध्वज को फहराया और शुभकामना संदेश को पढ़ कर सुनाया गया।

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x