अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर सच की दस्तक पत्रिका का मना चौथा स्थापना दिवस

“आज की नारी शक्ति” विषयक संगोष्ठी व सम्मान समारोह किया गया

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस एवं मासिक पत्रिका सच की दस्तक के चतुर्थ स्थापना दिवस के अवसर पर सैयदराजा स्थित राजकीय बालिका इंटर कालेज सैयदराजा के प्रांगण में शनिवार को आज की नारी शक्ति विषयक एक संगोष्ठी तथा सम्मान समारोह का आयोजन किया गया।

कार्यक्रम में मासिक पत्रिका सच की दस्तक के संपादक ब्रजेश कुमार एवं विद्यालय की प्रधानाचार्या श्रीमती सुशीला देवी द्वारा पूरी टीम के साथ समाज सेवा से जुड़े महान विभूतियों को विभिन्न अवार्डों जैसे राष्ट्रीय स्मिता अवार्ड, सेवाश्री अवार्ड, कलाश्री अवार्ड, मातृशक्ति अवार्ड आदि से नवाजा गया तथा स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया।

इसमे जनपद चन्दौली की उड़ीसा में कार्यात डी आई जी कविता जालान, डॉ सरिता मौर्या को विद्या श्री ,समाज मे कार्य करने वाली समाज सेविका प्रियंका गुप्ता व सबा को सेवा श्री ,दुर्गेश राजपूत व राकेश रोशन को भी सेवा श्री सम्मान,पूजा व सरिता को कला श्री इसी क्रम में अध्यापिका विजया को मातृ शक्ति अख्तरी को अपराजिता,तेजस्वी सम्मान स्वेता सिंह को दिया गया।

जिसमे कमांडेंट रामलखन, एएसपी प्रेमचंद, कोतवाल लक्ष्मण पर्वत, चेयरमैन विरेन्द्र जायसवाल के अलावा विद्यालय की पूर्व छात्रा रही आईपीएस अधिकारी कविता जालान के पिता विनय कुमार जालान, दादाश्री आत्माराम जालान, चेतना मंच के अध्यक्ष विनय कुमार वर्मा, अमिय कुमार पांडेय, राकेश रौशन यादव आदि मुख्य रहे।

सर्वप्रथम कार्यक्रम के मुख्य अतिथि सीआरपीएफ कमांडेंट रामलखन एवं विशिष्ट अतिथि एएसपी प्रेमचंद व चेयरमैन विरेन्द्र जायसवाल ने संयुक्तरूप से मां सरस्वती के तैलचित्र पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का विधिवत शुभारम्भ किया।

इस अवसर पर कार्यक्रम में विद्यालय की छात्राओं ने बेजोड़ नृत्य कला का एक से बढ़कर एक सुंदर प्रदर्शन किया। जिसमें कक्षा 11 की छात्रा रिजवाना व आकांक्षा ने मां, मेरी मां, प्यारी मां, प्यारी मां के गीत पर थिरकते हुए भाव नृत्य की सुंदर प्रस्तुति की। वहीं कक्षा 10 की छात्राओं में पल्लवी, सानिया, सोनाली, रुचि आदि ने गंगा पर गीत केहू गंगा की नीर ना बिगाड़े, गंगा माता जीवन दाता।

ओ मैया सबही के गीत पर सामूहिक नृत्य की अद्भुत छटा बिखेरी। तदुपरांत कक्षा 9 की छात्राओं ने सरस्वती वंदना में जय जय हे भगवती जय मां सरस्वती की सुंदर प्रस्तुति कर सभी अतिथियों को भाव विभोर कर दिया।

इस दौरान कार्यक्रम के मुख्य अतिथि सीआरपीएफ कमांडेंट रामलखन ने महिला सशक्तिकरण पर अपना विचार रखते हुए कहा कि नारी शक्ति की जब बात होती है तो सबसे पहले हमे नारी के अधिकारों की लड़ाई लड़नी होगी। आखिर हम अपने घर की महिलाओं को कैसे कमजोर मान सकते हैं इसका मतलब कहीं ना कहीं हमारे मन मे दुविधा है।

उन्होंने कहा कि हमारे देश की महिलाएं कहीं से भी कमजोर नही हैं। उन्होंने देश के लिए महिलाओं की भागीदारी का उदाहरण कमला हैरिस, कल्पना चावला व गीता फोगाट के रूप में दिया और कहा कि हमे अपनी सोच बदलनी होगी, समाज का दायरा बदलना होगा तभी पुरुष एवं महिलाओं के बीच बराबरी हो सकती है, कहते हुए खासकर बच्चियों के लिए दो लाइन की बात की।

बदल के खुद को बदल दो जमाने की निगाहों को, अगर तूफान भी आये तो फैला दो अपनी बाहों को, फैला दो अपनी बाहों को। इसके बाद कवि हृदय सम्राट एवं पुलिस अधिकारी एडिशनल एसपी चन्दौली प्रेमचंद ने महिलाओं की सुरक्षा की बात करते हुए बताया कि हमारे पुलिस विभाग में महिला सुरक्षा के लिए तमाम नियम कायदे व आईपीसी की धाराएं मौजूद है। महिलाएं अपनी सुरक्षा के लिए पुलिस द्वारा जारी हेल्पलाइन नम्बर 112, 181, 1090,1071, 1076 का कभी भी इस्तेमाल कर सकती हैं। पुलिस आपकी सुरक्षा एवं मदद के लिए चौबीस घंटे तैयार है।

श्री प्रेमचंद ने बेटियों को सम्बोधित करते हुए एक शेर का उल्लेख किया। कहा कि उड़ना है गर तुम्हें आसमां का परिंदा बनकर, एहसासे जिंदगी करना ज़मीं का वासिन्दा बनकर।

इसके बाद उन्होंने अपनी स्वरचित कविता सुनाया बेटी है अनमोल, मोल कोई ना जानें- 2, कभी हंसती है कभी रोती है कभी दिल बहलाती है, हर दर्द समझती है, हर गम को भुलाती है। शहद सरीखे मिश्री जैसे इसके मीठे बोल मोल कोई ना जाने, बेटी है अनमोल मोल कोई ना जाने। सुनाकर कर तालियों की गड़गड़ाहट के बीच खूब वाहवाही लूटी। इस दौरान कार्यक्रम को साहित्यकार कृष्णकांत श्रीवास्तव, चेयरमैन विरेन्द्र जायसवाल, डॉ सरिता मौर्या आदि ने संबोधित किया। कार्यक्रम में पत्रिका के प्रधान सम्पादक ब्रजेश कुमार, खेल सम्पादक मनोज उपाध्याय, प्रसार प्रभारी अशोक सैनी, डिजिटल इंचार्ज अनुज जायसवाल, कार्यक्रम संयोजक राकेश शर्मा आदि ने आये हुए अतिथियों का स्वागत किया।

अध्यक्षता सुशीला देवी प्रधानाचार्या एवं संचालन डॉ. सुभद्रा मैडम,श्वेता सिंह ने किया। इस अवसर पर श्रमजीवी पत्रकार यूनियन सैयदराजा के अध्यक्ष डॉ. सरवर आलम,प्रतीक राय,गनपत राय,मृदुला श्रीमाली,विजय कुमार,अनूप गुप्ता अरविंद कुमार, अलीमुद्दीन वारसी, अजित चौरसिया, मानवेन्द्र, जायसवाल, घूरेलाल कन्नौजिया, मुकेश कुमार मौर्या आदि पत्रकार सहित विद्यालय की समस्त अध्यापिकाएं एवं छात्राएं मौजूद रही।

1 1 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
1 Comment
Oldest
Newest Most Voted
Inline Feedbacks
View all comments
Sach Ki Dastak
Member
4 months ago

Excellent

1
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x