गूगल, फेसबुक और ट्विटर ने गलत जानकारी फैलाई, अब होगी अमरीकी संसद में सुनवाई

  • गलत सूचना फैलाने के मामले में अगले महीने अमरीकी सदन में नई सुनवाई का सामना करना पड़ेगा
  • 25 मार्च को होने वाली सुनवाई में ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर गलत सूचना के संबंध में पूछताछ होगी

सैन फ्रांसिस्को। फेसबुक के सीईओ मार्क जकरबर्ग, अल्फाबेट और गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई और ट्विटर के सीईओ जैक डोर्सी को अपने-अपने प्लेटफार्मों पर गलत सूचना के प्रसार के मामले में अगले महीने अमेरिकी सदन में एक नई सुनवाई का सामना करना पड़ेगा। 25 मार्च को होने वाली सुनवाई में ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर गलत सूचना के संबंध में इनसे पूछताछ होगी। ऊर्जा और वाणिज्य समिति के अध्यक्ष फ्रैंक पैलोन जूनियर ने गुरुवार को घोषणा की कि संचार और प्रौद्योगिकी उपसमिति और उपभोक्ता संरक्षण और वाणिज्य उपसमिति ऑनलाइन संयुक्त सुनवाई करेगी।

पैलोन ने गुरुवार को एक बयान में कहा कि चाहे वह कोविड-19 वैक्सीन के बारे में झूठ हो या चुनावी धोखाधड़ी के गलत दावे, इन ऑनलाइन प्लेटफार्मों ने गलत सूचना फैलाने दिया, जिससे वास्तविक जीवन के साथ राष्ट्रीय संकट को बढ़ावा मिला। पबिल्क हेल्थ और सुरक्षा के लिए यह परेशानी का सबब बना।

पैलोन ने कहा कि इस सुनवाई में बढ़ती गलत सूचनाओं को लेकर ऑनलाइन प्लेटफॉर्मो को जवाबदेह ठहराने के संबंध में यह सुनवाई समिति का काम जारी रखेगी। डोर्सी और जकरबर्ग पूर्व में अमरीकी कांग्रेस के सामने नवंबर में सीनेट जूडिशियरी की मॉडरेशन और गलत सूचना संबंधी सुनवाई के लिए पेश हुए थे। 6 जनवरी को कैपिटल हिल में हुई हिंसा और हमले के मद्देनजर कंपनियों द्वारा उठाए गए विभिन्न कदमों के बाद टेक दिग्गजों की यह पहली सुनवाई होगी।

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x