जीआरपी ने एक करोड़ 82 लाख का पकड़ा

 

 सच की दस्तक डेक्स चन्दौली
पंडित दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन पर जीआरपी ने चेकिंग के दौरान दो तस्कर सहित 1करोड़ 82 लाख कीमत की अफीम ।पकड़ा ।
जानकारी के अनुसार  पुलिस महानिदेशक रेलवे  द्वारा इन दिनों  कांवरियों का बाबाधाम जाने का क्रम जारी है ।उनकी सुरक्षा व्यवस्था  को देखते हुए  सघन चेकिंग के  निर्देश  जीआरपी को दे रखे हैं  ।उसी का अनुपालन करते हुए  जीआरपी प्रभारी  आरके सिंह  व अतिरिक्त प्रभारी  राजेश कुमार के नेतृत्व में  पंडित दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन के विभिन्न प्लेटफार्म पर  चेकिंग की जा रही थी  तभी प्लेटफार्म नंबर 7 व 8 के पश्चिमी छोर पर बॉक्स के समीप दो व्यक्ति संदिग्ध अवस्था में दिखाई पड़े । संदेह होने पर जीआरपी के जवान जब उनकी तरफ आगे बढ़े। तभी दोनों युवक जीआरपी को अपनी तरफ आता देख भागने लगे ।उन्हें भागते  देखकर जीआरपी के जवानों ने दौड़ाकर धर दबोचा । जब उसकी तलाशी ली गई तो उसके पास से 3 किलो 640 ग्राम बैग से अफीम बरामद हुआ ।जीआरपी प्रभारी के अनुसार वर्तमान समय में अंतरराष्ट्रीय बाजार में इनकी कीमत इन मात्रा के अनुसार एक करोड़ 82 लाख लगभग है।
अफीम के साथ पकड़ा है दोनों तस्कर झारखंड के निवासी बताए गये है जीआरपी के अनुसार पहला युवक सुबोध कुमार पुत्र मुसाफिर जोजो जिला चतरा झारखंड तथा दूसरा व्यक्ति पवन कुमार यह भी चतरा जिला झारखंड का ही निवासी है।
जीआरपी प्रभारी ने बताया कि ये दोनों युवक अफीम की यह खेप लेकर झारखंड से दिल्ली जा रहे थे । कोडरमा से इन लोगो ने ट्रेन पकड़ी थी और दिल्ली पर ट्रेन पकड़ने के डीडीयू स्टेशन पर उतरे ही थे कि चेकिंग के दौरान जीआरपी ने इनलोगो गिरफ्तार कर लिया है। जीआरपी प्रभारी ने यह भी बताया कि  यह कैरियर है दिल्ली में किन लोगो को यह डिलेवरी दी जानी थी इसकी तस्दीक की जा रही है। फिलहाल गिरफ्तार युवको के खिलाफ सुसंगत धाराओ में मुकदमा दर्ज कर लिया है वही सूचना के बाद तमाम जांच और इंटेलिजेंस एजेंसी मामले की पूछताछ कर रही है।
जानकारी  हो कि एक सप्ताह में यह तीसरा मौका है पीडीडीयू जीआरपी ने ट्रेनों में तश्करी का बड़ा खुलाशा किया है ।लगातार हो रही बरामदगी से जीआरपी भले ही अपनी पीठ थपथपा रही हो लेकिन यह जरूर स्पस्ट हो गया है दिल्ली हाबड़ा रेल रुत पर ट्रेन तश्करी के लिए मुफीद साधन बन गयी है।
0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x