कायस्थ रत्न गुरूदेव पंकज भइया कायस्थ जी का ‘नेताजी’ पर प्रमुख उद्बोधन –


नेताजी सुभाषचंद्र बोस को सच्ची श्रद्धांजलि देते हुए आज बस्ती उ. प्र में कायस्थ वाहिनी अंतराष्ट्रीय (पंजी) की मासिक बैठक सम्पन्न हुई।


भगवान श्री चित्रगुप्त का पूजन के साथ नेताजी नेताजी सुभाषचंद्र बोस जी को पुष्पांजलि अर्पित की गई ।
सर्व सम्मति से श्री सतेन्द्र नाथ मतवाला जी को बस्ती मण्डल संरक्षक , प्रशांत श्रीवास्तव जी को बस्ती जिला सचिव , विपुल श्रीवास्तव जी को बस्ती नगर संरक्षक , आनन्द श्रीवास्तव जी को आवास विकास वार्ड अध्यक्ष , अमित श्रीवास्तव जी को बेलवाडी वार्ड अध्यक्ष , अतुल श्रीवास्तव जी को पठान टोला वार्ड अध्यक्ष मनोनीत किया गया ।
इस अवसर पर वाहिनी प्रमुख गुरूदेव श्री पंकज भईया कायस्थ जी , राष्ट्रीय महासचिव डब्बू श्रीवास्तव जी , प्रदेस उपाध्यक्ष सिद्धार्थ श्रीवास्तव जी , बस्ती मण्डल अध्यक्ष अजय श्रीवास्तव , मण्डल उपाध्यक्ष बी के श्रीवास्तव , जिला अध्यक्ष दुर्गेन्द श्रीवास्तव , जिला उपाध्यक्ष अंसुमान श्रीवास्तव , जिला सचिव अखिलेन्द्र श्रीवास्तव ने उपस्थित समाज के लोगों को सम्बोधित किया ।
एक सुर में यह संकल्प लिया गया कि हर हाल मे हर कीमत पर हम कायस्थ एकता कभी भंग नहीं होने देंगे ।


कायस्थ रत्न गुरूदेव पंकज भइया कायस्थ जी का प्रमुख उद्बोधन –


हमें गर्व है कि हम उस कुल से हैं जिसके कुलभूषण नेताजी सुभाषचंद्र बोस हैं ।
हमें गर्व हैं कि हम नेताजी सुभाषचंद्र बोस जी ने सर्वप्रथम 30 दिसम्बर 1943 को पोर्टब्लेयर में तिरंगा फहराकर स्वतन्त्र भारत की घोषणा की थी ।
हमें गर्व है कि नेताजी सुभाषचंद्र बोस ही स्वतन्त्र भारत के प्रथम प्रमुख थे ।
हमें गर्व है नेताजी सुभाषचंद्र बोस द्वारा फहराया गया तिरंगा ही हमारा राष्ट्रध्वज है ।
हमें गर्व है कि नेताजी सुभाषचंद्र बोस द्वारा गठित आज़ाद हिन्द फौज का स्लोगन ” जय हिन्द ” आज हमारा राष्ट्रीय स्लोगन है ।
हमें गर्व है कि हम नेताजी सुभाषचंद्र बोस के वंसज हैं।

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x