हाउडी मोदी : मोदी – ट्रम्प सम्बोधन का आरम्भ

  • गुड मॉर्निंग ह्यूस्टन, गुड मॉर्निंग टेक्सस, गुड मॉर्निंग अमेरिका, PM मोदी का संबोधन शुरू
  • अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप कार्यक्रम में पहुंचे
  • ह्यूस्टन में पीएम मोदी का गर्मजोशी से स्वागत
  • की ऑफ ह्यूस्टन देकर किया गया मोदी को सम्मानित
  • कार्यक्रम में भारतीय कम्यूनिटी की जमकर हुई तारीफ

 

दुनिया ने देखा नये भारत का जलवा

संगठन और विकास की दोस्ती

पचास हजार भारत प्रेमियों से खचाखच भरा स्टेडियम

दो महाशक्ति एक साथ

ह्यूस्टन के एनआरजी स्टेडियम पीएम मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड मौजूद हैं। पीएम मोदी ने संबोधित करना शुरू कर दिया है। इससे पहले राष्ट्रगान की प्रस्तुति हुई।

प्रधानमंत्री मोदी का हुुआ भव्य स्वागत

भारत में 60 करोड़ वोटर बहुत बड़ी संख्या है : ट्रम्प

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने संबोधन की शुरुआत करते हुए कहा, ‘‘अमेरिका के सबसे भरोसेमंद और अच्छे दोस्त प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की यहां मौजूदगी का मैं स्वागत करता हूं। प्रधानमंत्री मोदी भारत के लिए अच्छा काम कर रहे हैं। उनका इस ऐतिहासिक कार्यक्रम में मौजूद होना सम्मान की बात है। अमेरिका में बसे भारतीय अमेरिका की तरक्की के लिए काम कर रहे हैं। कुछ ही महीनों पहले 60 करोड़ भारतीयों ने दुनिया के सबसे बड़े चुनाव में प्रधानमंत्री मोदी और उनकी पार्टी को जीत दिलाई। आपको बधाई। (60 करोड़) यह बहुत बड़ी संख्या है। आपको जन्मदिन की भी शुभकामनाएं (मोदी का 17 सितंबर को जन्मदिन था)।

प्रधानमंत्री और मैं यहां हर उस चीज का जश्न मनाने आए हैं, जो भारतीयों और अमेरिकियों को एकजुट करती है। अमेरिका में 40 लाख भारतीयों पर हमें गर्व है। आपने भी अमेरिका को गर्व महसूस कराने में योगदान दिया है। मेरा प्रशासन आपके लिए हमेशा मौजूद है।

ट्रम्प नेआतंकवाद का जिक्र किया, कहा- भारत के लिए भी सीमा सुरक्षा अमेरिका जितनी जरूरी

ट्रम्प ने अपने भाषण में इस्लामिक आतंकवाद का जिक्र किया। उन्होंने कहा, ‘‘भारत और अमेरिका, दोनों मानते हैं कि अपने समुदाय को सुरक्षित रखने के लिए हमें अपनी सीमाओं को सुरक्षा करनी होगी। मेरे प्रशासन ने अब तक इसी पर काम किया है। जो हमारे देश के लिए खतरा हैं, उन्हें अमेरिका में प्रवेश न मिले, यह सुनिश्चित किया जा रहा है। सीमा की सुरक्षा भारत के लिए भी इतनी ही महत्वपूर्ण है। हम अभूतपूर्व कदम उठा रहे हैं औरदक्षिण से अवैध अप्रवासियों को रोकने की व्यवस्था कर रहे हैं। हम उन वैध प्रवासियों के आभारी हैं, जो कड़ी मेहनत करते हैं और टैक्स देते हैं। हम अवैध रूप से आने वालों को मुफ्त सुविधाएं नहीं देना चाहते। मैं कभी नहीं चाहूंगा कि कोई नेता अवैध प्रवासियों को वैध प्रवासियों के हक की सुविधाएं लेने दे।’’

भारत-अमेरिका के संविधान तीन खूबसूरत शब्दों से शुरू होते हैं – ट्रम्प 

अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा, ‘‘भारत-अमेरिका के बीच रिश्ते पहले से कहीं मजबूत हैं। हमारे रिश्ते साझा मूल्यों और लोकतंत्र पर आधारित हैं। हम कानून से चलते हैं और इंसाफ के लिए काम करते हैं। दोनों देशों के संविधान तीन खूबसूरत शब्दों – वी द पीपल… से शुरू होते हैं। प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में दुनिया भारत को मजबूती से आगे बढ़ते हुए देख रही है। प्रधानमंत्री मोदी के शासन में कई लाख लोग गरीबी से बाहर आए हैं। यह महत्वपूर्ण बात है।’’

Howdy Modi Event:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप एनआरजी स्टेडियम में मौजूद हैं। यहां वो 50 हजार लोगों की विशाल सभा को संबोधित कर रहे हैं।

पीएम मोदी ने अपने संबोधन में कहा कि अबकी बार ट्रंप सरकार तो ट्रंप ने मोदी को बड़ी जीत पर बधाई दी।

 

__आज का यह अनुभव अकल्पनीय है।

यहां एनर्जी भारत-अमेरिका की बढ़ती सिनर्जी की गवाह: मोदी

ट्रम्प के संबोधन के बाद दोबारा मंच पर लौटे प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ‘‘ये जो दृश्य है। ये जो माहौल है। यह अकल्पनीय है। और जब टेक्सास की बात आती है तो हर बात भव्य, विशाल होना यहां के स्वभाव में है। आज हम यहां नई हिस्ट्री-नई केमिस्ट्री बनते देख रहे हैं। यह एनर्जी भारत-अमेरिका के बीच बढ़ती सिनर्जी की गवाह है। इस कार्यक्रम का नाम हाउडी मोदी जरूर है, लेकिन मोदी अकेले कुछ नहीं है। मैं 130 करोड़ भारतीयों के आदेश पर काम करने वाला साधारण व्यक्ति हूं।’’

__ आज हम यहां एक नई हिस्ट्री व एक नयी कैमिस्ट्री बनते देख रहे हैं।

__ अमेरिकी राष्ट्रपति का यहां आना मेरी प्रशंसा में शुभकामनाएं देना, जो भारत की प्रगति में प्रशंसा की है उनकी एक्यूमेंट का सम्मान है। यह पूरे भारतवर्ष का सम्मान है।

__मैं हर हिन्दुस्तानी की तरफ से सभी का स्वागत करता हूँ। बधाई देता हूँ।

__जो लोग यहां नहीं आ पाये मैं उनसे व्यक्तिगत रूप से क्षमा मांगता हूँ।

__ह्यूस्टन के लोगों ने खराब मौसम से जूझते हुए भी इस प्रोग्राम को इतना भव्य बना डाला मानना पडेगा आप लोग मजबूत हो यानि ह्यूस्टन इज स्ट्रांग

__इस कार्यक्रम का नाम हाउडी मोदी है लेकिन मोदी अकेले कुछ नही हौ मैं 130 करोड़ भारतीय के लिए काम करने वाला साधारण व्यक्ति हूँ। भारत में सब अच्छा है। सब चंगै सी, मजाम मजा मा छे। हर भारतीय भाषा में कहा कि भारत में सब अच्छा है। हाँ जी मैने इतना ही कहा है कि Everything is fine. यही भाषायें हमारी पहचान है।

यही सह अस्तित्व की भावनाओं के साथ आगें बढ़ रही हैं। पंथ सम्प्रदाय, वेशभूषा, ऋतुचक्र भारत की धरती को अद्भुत बनाते है विविधता में एकता यही हमारी शक्ति है, यही हमारी प्रेरणा है।

__आज यहां स्टेडियम में बैठे पचास हजार से ज्यादा भारतीय प्रतिनिधि बनकर मौजूद हैं। भारतीय 61करोड़ मतदाता ने हिस्सा लिया, अमेरिका की जनसंख्या से दूना, आठ करोड़ युवा ऐसे जो पहली बार मतदाता थे.. सबसे ज्यादा महिलाओं ने वोट डाला था.. सबसे ज्यादा चुनकर महिलाएं ही आयी हैं।

__60 साल के बाद पूर्ण बहुमत के साथ यह सरकार पहले से ज्यादा संख्या बल के साथ लौटी। किसके कारण हुआ? क्यों हुआ? मोदी की वजह से नहीं हुआ.. ये हिन्दुस्तान वासियों के वजह से हुआ। वैसे तो भारत धैर्य वान देश हैं पर अब हम अधीर है विकास के लिए.. देश को नयी ऊँचाई पर ले जाने के लिए.. सबसे बड़ा म़त्र सबका साथ सबका विकास.. जनभागीदारी.. संकल्प से सिद्धि.. सबसे बड़ा संकल्प न्यू इंडिया.. भारत आज न्यू इंडिया दिन रात एक कर रहा.. हम किसी दूसरे से नहीं.. अपने आप से मुकाबला कर रहे है.. We are changing ourself आज भारत सोच को चैलेंज कर रहा है.. जिनकी सोच है कुछ बदल नहीं सकता है..

__ we are achieving hr पांच साल मे हमने ग्यारह करोड़ शौचालय बनवाये.. 99% देश में कुकिंग.. 55% था.. पांच साल के भीतर 95% पहुंचा दिया.. 15 करोड़ के लोगों को गैस कनेक्शन से जोड़ा.. रूरल रोड कनेक्टिविटी.. पांच साल मे़ हम 97% तक ले गये.. पांच साल में हमने ग्रामीण इलाके में दो हजार किलोमीटर सड़क निर्माण किया, आज पांच साल में 100% परिवार बैंकिंग व्यवस्था में जुड़े सवा करोड नये बैंक खाते खुलवाये हैं.. आज भारतीय बड़े सपने देख पा रहे हैं…

__इज ऑफ लिविंग.. रास्ता इम्पावरमेंट.. देश का डेवलपमेंट आगें बढेगा।

__सस्ता डेटा डिजिटल इंडिया की पहचान

ह्यूस्टन के लोग जानते है डेटा इस न्यू गोल्ड.. अगर पूरी दुनिया में.. सबसे कम कीमत पर डेटा उपलब्ध है तो वह देश है भारत… आज भारत में 1 जीबी डेटा की कीमत 25 से 30 सेंट्स के आसपास है। यानी एक डॉलर का भी चौथाई हिस्सा। मैं यह भी बताना चाहूंगा कि एक जीबी डेटा की दुनिया में औसतकीमत 25 से 30 गुना ज्यादा है। यह सस्ता डेटा भारत में डिजिटल इंडिया की नई पहचान बन रहा है। इसने भारत में गवर्नेंस को रि-डिफाइन किया है।’’

भारत में डिजिटल डेटा की पहचान बन रहा है। आज सेन्ट्रल गवर्नमेंट स्टेट गवर्नमेंट ऑनलाइन सर्विसेज उपलब्ध है..

___पहले पासपोर्ट में बहुत लम्बी प्रक्रिया में लम्बा समय लगता है। आज एक हफ्ते से कम समय मे पासपोर्ट घर आ जाता है.. नयी कम्पनी के रजिस्ट्रेशन. 24घंटे में नयी कम्पनी रजि. हो जाती है.. टेक्स रिफंड आने मे महीनों लग जाते थे। इस बार 31 अगस्‍त को एक दिन में करीब 50लाख लोगों ने ऑनलाइन टैक्स रिफंड भरा है.. एक दिन में ही पचास लाख रिटर्न.. ह्यूस्टन की आबादी से डबल से ज्यादा.. महीनों से नहीं हफ्ते में हो जाता है… अपने वेलफेयर टीम जरूरतमंदों के लिए नये भारत के निर्माण के लिए फेरवेल (विदाई) भी दिया जा रहा है.. दोनों को महत्व दे रहे हैं..

__2 अक्टूबर 150 जन्म जयंती मनायेगा.. कई बुराइयों को फेयरवेल दे देगा.. 1500 से ज्यादा कानूनों को दर्जनों टैक्स के जाल से भी  फेरवेल दे दिया। हमने जीएसटी लागू किया.. वन नेसन वन टैक्स..

__हमने करप्सन को फेयरवेल दिया.. बीते दो तीन साल में भारत ने तीन लाख संदिग्ध कम्पनी को फरवेल दे दिया.. फेकनेम को भी फेरवेल दे दिया है.. जो सिर्फ़ कागजों पर थे। जिनसे डेड लाख करोड़ रूपये बचाये गये.. हम ट्रांसपेरेंसी बना रहे हैं। पिछले 70सालों से जो मुद्दा बना हुआ था जिसे कुछ दिन पहले भारत ने फेरवेल दे दिया है.. यह विषय है आर्टिकल 370। आर्टिकल 370 के कारण जम्मू-कश्मीर व लद्दाख के लोग, विकास व समान अधिकारो से वंचित रह गये थे जिनका लाभ आतंकी ताकतें उठा रहीं थीं ..अब भारत वाले अधिकार दिए जा चुके हैं.. सब अधिकार जम्मू-कश्मीर लद्दाख को मिल गये हैं। यह  दो तिहाई बहुमत से पास किया गया है.. यह बहुत बड़ी कामयाबी है। 

बहुत-बहुत धन्यवाद आपका..

इस दौरान मोदी ने कश्मीर मुद्दे पर बिना नाम लिए पाकिस्तान पर निशाना साधा। मोदी ने कहा-‘‘भारत जो कर रहा है, उससे कुछ ऐसे लोगों को भी दिक्कत हो रही है, जिनसे खुद अपना देश संभल नहीं रहा है। अमेरिका में 9/11 हो या मुंबई में 26/11 हो, उसके साजिशकर्ता कहां पाए जाते हैं? साथियो! अब समय आ गया है कि आतंकवाद के खिलाफ और उसे बढ़ावा देने वालों के खिलाफ निर्णायक लड़ाई लड़ी जाए।’’

मोदी ने कहा, “इन लोगों ने भारत के प्रति नफरत को ही अपनी राजनीति का केंद्र बना दिया है। ये वो लोग हैं जो अशांति चाहते हैं। आतंक के समर्थक हैं और आतंकवाद को पालते-पोसते हैं। उनकी पहचान सिर्फ आप नहीं, पूरी दुनिया अच्छी तरह जानती है। मैं यहां जोर देकर कहना चाहूंगा कि इस लड़ाई में पूरी मजबूती के साथ प्रेजिडेंट ट्रम्प खड़े हुए हैं। राष्ट्रपति ट्रम्प को भी एक बार स्टैंडिंग ओवेशन दीजिए। 

 

 अब समय आ गया है कि आतंक के खिलाफ  निर्णायक लड़ाई लड़ी जाये।

– प्रधानमंत्री मोदी

अनुच्छेद 370 खत्म करने पर भारत के सांसदों के लिए तालियां’

मोदी ने अनुच्छेद 370 हटाने का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा, ‘‘अनुच्छेद 370 ने जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के लोगों को विकास और समान अधिकारों से वंचित रखा था। इसका फायदा आतंकवाद और अलगाववाद बढ़ाने वाली ताकतें उठा रही थीं। अब भारत के संविधान ने जो अधिकार बाकी भारतीयों को दिए हैं, वही अधिकार जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के लोगों को मिल गए हैं। वहां की महिलाओं-बच्चों-दलितों के साथ हो रहा भेदभाव खत्म हो गया है। राज्यसभा में जहां हम बहुमत में नहीं हैं, वहां भी इसे दो-तिहाई से पारित किया। एक बार भारत के सांसदों के लिए खड़े होकर तालियां बजाएं।’’

धन्यवाद.. 

__भाईयों और बहनों भारत में बहुत  बहुत कुछ हो रहा, बहुत कुछ बदल रहा। कुछ बड़ा करने के इरादे लेकर हम चलें हैं, हमें नये चैलेंज पूरे करने हैं।  मैंने कुछ समय पहले एक कविता लिखी थी

जिसकी दो पंक्ति सुना रहा हूँ.. वो जो मुश्किलों का अंबार है वही तो मेपे हौंसला की मिनार है

साथियों भारत आज चुनौतियों टाल नही रहा बल्कि चुनौतियों से टकरा रहा है।  भारत आज समस्याओं के समाधान पर जोर दे रहा है। असम्भव को सम्भव करके दिखा रहा है .. अब भारत ने पांच ट्रिलियन की अर्थव्यवस्था बनने की कमर कसी है.. हम इन्फ्रास्ट्रक्चर. डेवलेपमेंट पर फैंडली माहौल बनाते हुए आगें बढ़ रहे हैं.. हम इन्फ्रास्ट्रक्चर पर  सौ लाख करोड़ रूपये खर्च करने वाले हैं.. ग्रोथ रेट 7.5% रही है। .. पहली कि किसी भी सरकार में पूरा एवरेज नही हुआ पर आज हाई ग्रोथ का दौर है..।

हाल में ही fdi.. Collमाउनिंग कार्पोरेट टेक्सस में, फीड बैक, कार्पोरेट टेक्स कम करने मे पोजीटिव मैसेज गया है। जो हमें ग्लोबली मजबूत बनायेगा.. अमेरिकियों में आगें बढ़ने की सम्भावना है.. न्यू इंडिया के साथ हम सब मिलकर  मजबूत इकोनॉमी ग्रोथ को नये पंख लगा देगें..

ट्रम्प कहते हैं कि इकोनॉमी मिरकल है जोकि अब हम मिलकर सोने पर सुहागा होगें.. हमारी राष्ट्रपति ट्रम्प से बातचीत होगी उससे पोजीटिव रिजल्ट्स निकलेगा..मुझे तो ट्रम्प टफ निगोसिऐटर कहते है.. बल्कि वह खुद द आर्ट ऑफ डील में माहिर व्यक्ति हैं। मैं उनसे सीख रहा हूँ। 

. बेहतर भविष्य के लिए यह मार्च तेज गति से बढ़ेगें.. और इसका आप सब एक हिस्सा हैं..आप वतन से दूर हो पर वतन की सरकार आपसे दूर नहीं...

बीते पांच साल इंडिया डिसेपोरा, दूतावास सिर्फ़ सरकारी कार्यालय ही नहीं  बल्कि आपके साथी सिद्ध हुए हैं। सरकार ने प्रवासी भारतीयों की मदद इमीग्रेट बीमा योजना सुधार.. तमाम कार्य किये  हैं.. काफी मदद की है.. विदेश प्रवासी सहायता केंद्र खोले गये हैं..इस हाऊडी मोदी इवेंंट काा संदेश 21वीं सदीी में नयी सम्भावना को जनम देगा.. यह अमेरिका और भारत के समान लोकतांत्रिक मूल्यों की शक्ति है। हम दोनों का यह साथ आप हम, भारत और अमेरिका के उज्जल भविष्य की तरफ़ ले जायेगा।

मेरा राष्ट्रपति डोनाल्ड  ट्रंप से विनम्र आग्रह है कि वे आप  सपरिवार भारत आयें और हमें आपके स्वागत करने का सौभाग्य प्रदान करें। अब मैं राष्ट्रपति ट्रंप, और यहां मौजूद अमेरिका के सभी पार्टियों के सांसदों, राजनीति व सामाजिक कार्यकर्ताओं, हाउडी मोदी कार्यक्रम के आयोजकों व सभी सांस्कृतिक कार्यक्रम के कलाकारों व यहां उपस्थित आप सभी का और जो यहां नहीं आ पाए उन सब का, पूरे अमेरिका का पूरे भारत का और जो भी यह कार्यक्रम देख रहा आप सबका धन्यवाद करता हूँ।  

Thanks India. Thanks America. God bless you all. 


‘हाउडी मोदी’ कार्यक्रम भारत और अमेरिका दोनों ही देशों के लिए अहम माना जा रहा है यकीनन इससे दोनों देशों के तरक्की के नये दरवाजे खुलेगें। 

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x