अमेरिका दौरे पर रवाना होने से पहले पीएम मोदी ने कहा- और प्रगाढ़ होंगे सबसे बड़े लोकतंत्र के रिश्ते

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को हफ्ते भर की यात्रा पर अमेरिका रवाना होने से पहले विश्वास व्यक्त किया कि उनके दौरे से भारत और अमेरिका के संबंधों में और प्रगाढ़ता आएगी। बता दें कि लोकसभा चुनाव 2019 में प्रचंड जीत हासिल करने के बाद नरेंद्र मोदी का ये पहला अमेरिका दौरा है।27 सितंबर को प्रधानमंत्री संयुक्त राष्ट्र महासभा को संबोधित करेंगे। 

उनका यह दौरा भारत के लिए कई अहम अवसरों के दरवाजे खोलेगा और उसकी एक वैश्विक नेता की छवि बनेगी।

प्रधानमंत्री मोदी 21 से 27 सितंबर तक अमेरिका के दौरे पर रहेंगे, जहां वह संयुक्त राष्ट्र महासभा के 74वें सत्र को संबोधित करने के साथ ही अन्य कई बहुपक्षीय और द्विपक्षीय मुद्दों से जुड़े कार्यक्रमों में भाग लेंगे।

प्रधानमंत्री ने कई ट्वीट कर अपने कार्यक्रमों के बारे में भी जानकारी दी।

पीएम ने बताया कि वह वहां कई महत्वपूर्ण बहुपक्षीय आयोजनों में शामिल होंगे और वहां बसे भारतीय समुदाय के साथ-साथ कई कंपनियों के सीईओ से भी मुलाकात करेंगे। इनमें एनर्जी सेक्टर के टॉप सीईओज भी शामिल हैं। दुनिया के कई नेताओं से मिलने का भी उन्हें अवसर मिलेगा।

पीएम मोदी का US दौरा

21 सितंबरः प्रधानमंत्री मोदी भारतीय समयानुसार सुबह 11:05 बजे (स्थानीय समय-12:35 PM) जॉर्ज बुश इंटरनेशनल एयरपोर्ट ह्यूस्टन पहुंचेंगे.

22 सितंबरः पीएम भारतीय समयानुसार सुबह 4:30 बजे (स्थानीय समय-6:00 PM)  होटल पोस्ट ओक में तेल कंपनियों के CEO से मिलेंगे

-भारतीय समयानुसार सुबह 6:00 बजे (स्थानीय समय-7:35 PM) पीआईओ और एनआरआई के साथ मुलाकात करेंगे

23 सितंबरः मोदी क्लाइमेट समिट को संबोधित करेंगे.

-आतंकवाद मामले पर नेता दुनियाभर के कई नेताओं से मिलेंगे.

-अमेरिकी कांग्रेस के प्रतिनिधियों से मुलाकात

24 सितंबरः यूएनएसजी की ओर से लंच में हिस्सा लेंगे

महात्मा गांधी की 150वी वर्षगांठ पर कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे. कार्यक्रम में 3 चीजों की शुरुआत करेंगे

-गेट्स फाउंडेशन की ओर से ग्लोबल गोलकीपर अवार्ड से सम्मानित किए जाएंगे

-ब्लूमबर्ग के सीईओ से मुलाकात

25 सितंबरः CARICOM की बैठक में हिस्सा लेंगे. डोनाल्ड ट्रंप समेत 20 नेताओं से मुलाकात संभव.

27 सितंबर: यूएनजीए सेशन को संबोधित करेंगे

 

ह्यूस्टन में कार्यक्रम

पीएम ने बताया कि वह वहां कई महत्वपूर्ण बहुपक्षीय आयोजनों में शामिल होंगे और वहां बसे भारतीय समुदाय के साथ-साथ बिजनस लीडर्स से मुलाकात भी करेंगे। मोदी ने कहा कि उनके अमेरिकी दौरे का आगाज ह्यूस्टन में कई तरह के कार्यक्रमों के साथ होगा। वहां वह एनर्जी सेक्टर के टॉप सीईओज, वहां बसे भारतीयों के विभिन्न समूहों और शीर्ष स्तर के अमेरिकी नेताओं के साथ बातचीत करेंगे।

उन्होंने ट्वीट में लिखा, ‘ऊर्जावान शहर ह्यूस्टन में कार्यक्रमों से हमारे संबंधों को और ज्यादा ऊर्जा मिलेगी।’

पीएम ने यह  भी बताया कि ह्यूस्टन में 22 सितंबर को स्थानीय समयानुसार सुबह सवा दस बजे एक बड़ा सामुदायिक कार्यक्रम होगा। हमें गौरव है कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अपनी मौजूदगी से इस कार्यक्रम की शान बढ़ाएंगे।

और प्रगाढ़ होंगे भारत-अमेरिका के रिश्ते: पीएम

उन्होंने कहा कि हाउडी मोदी नामक यह कार्यक्रम भारत-अमेरिका रिश्तों में एक नई मील की पत्थर साबित होगा।

प्रधानमंत्री ने कहा कि हमारे साझे मूल्य, परस्पर हित और आपसी ताकत के कारण दुनिया के सबसे पुराने और सबसे बड़े लोकतंत्र के बीच स्वाभाविक साझेदारी की मजबूत नींव पड़ती है। उन्होंने बताया कि न्यू यॉर्क स्थित यूएन हेडक्वॉर्टर में वह कई कार्यक्रमों में हिस्सा लेंगे। पीएम ने कहा कि भारत संयुक्त राष्ट्र की स्थापना के वक्त से ही इसके विभिन्न कार्यक्रमों एवं पहलों में सक्रिया भागीदारी निभाता रहा है।

उन्होंने लिखा, ‘इससे मल्टिलैटरलिज्म के प्रति हमारा संकल्प झलकता है। यूएन जनरल असेंबली को मेरा संबोधन 27 सितंबर को होगा।’

गांधी जयंती पर यूएन में कार्यक्रम

इस वर्ष महात्मा गांधी की 150वीं जयंती है। पीएम ने बताया कि भारत इस अवसर पर यूएन में एक कार्यक्रम आयोजित करने जा रहा है जिसमें दुनियाभर के नेता गांधीजी के बारे में अपने-अपने विचार व्यक्त करेंगे।

गेट्स फाउंडेशन का जताया आभार 

प्रधानमंत्री ने अपने ट्वीट में उन्हें ग्लोबल गोलकीपर्स गोल्स अवॉर्ड 2019 पुरस्कार से नवाजे जाने के लिए मेलिंडा और गेट्स फाउंडेशन का शुक्रिया अदा किया।

जोरों पर चल रही तैयारी

अमेरिका के जिस स्टेडियम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लोगों को संबोधित करेंगे वहां हजारों लोगों के बैठने की व्यवस्था है। यहां कार्यक्रम की तैयारियां जोरों पर चल रही हैं, एक बड़ा-सा स्टेज बनाया गया है, जहां से पीएम का संबोधन होगा। नरेंद्र मोदी के भाषण से पहले यहां सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन भी किया जाएगा. बता दें कि ना सिर्फ डोनाल्ड ट्रंप बल्कि अमेरिका के कई सांसद यहां शामिल होंगे।

मौसम की मार तक का असर हाउडी मोदी के वॉलंटियर्स पर नहीं पड़ा है, वह लगातार NRG स्टेडियम में कार्यक्रम में लगातार तैयारियों में जुटे हुए हैं।रविवार को होने वाले प्रोग्राम से पहले 1500 वॉलंटियर्स काम में लगे हुए हैं।

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x