अगर लापरवाही की तो चमोली ग्लेशियर से ज्यादा ख़तरनाक साबित हो सकती है भीमताल झील

भीमताल- उत्तराखंड में नैनीताल जिले की भीमताल झील में बने डैम के टूटे गेट चमोली ग्लेशियर से ज्यादा खतरनाक हो सकते हैं । भीमताल के विधायक ने सौ-वर्ष पुराने बने विक्टोरिया डैम का निरीक्षण कर अद्धिकारियों को बुुलाया ।

भीमताल झील में बने डैम गेट से लगातार पानी का रिसाव हो रहा हैं । डैम के बीच में एक बड़ा छेद बन गया है जो लगातार बढ़ते ही जा रहा है जिससे डैम को खतरा बढ़ गया है। भीमताल विधायक राम सिंह कैड़ा ने इस मामले को विधानसभा में उठाया था। लेकिन अभीतक कोई कार्यवाही नहीं हुई ।

सिंचाई विभाग के अधिकारी इस पर गंभीर नहीं हैं । विधायक ने भीमताल के तल्लीताल क्षेत्र में बने झील के गेट पर पहुंचकर सिंचाई विभाग के अधिकारियों को फोन कर मौके पर बुलाया । विधायक ने डैम की सुरक्षा के मामले को गंभीरता से लेते हुए अधिकारियों को जरूरी निर्देश दिये ।

डैम निर्माण को 140 वर्ष पूरे हो चुके हैं और इससे आने वाले समय में तराई के मैदानी क्षेत्रों को खतरा बन गया है । माना जा रहा है की चमोली ग्लेशियर घटना के बाद डैम सुरक्षा को लेकर सरकार गंभीर नहीं है जबकि ये उस हादसे से कहीं भयावह साबित हो सकता है ।

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x