भारतीय टीम के कोच रवि शास्त्री ने की पृथ्वी शॉ की जमकर तारीफ़ –

       पिछले मैच में ”पृथ्वी शॉ” को सचिन और सहवाग दोनों की तरह बताने वाले रवि शास्त्री ने अब उनके अंदर एक और महान बल्लेबाज की झलक बताई है। शास्त्री ने रविवार को वेस्टइंडीज के खिलाफ दो टेस्ट मैचों की श्रृंखला में 2-0 से जीत दर्ज करने के बाद कहा कि 18 साल के इस सलामी बल्लेबाज में सचिन तेंदुलकर और वीरेन्द्र सहवाग के साथ ब्रायन लारा की झलक दिखती है। 

भारतीय कोच ने कहा, ” उसका (शॉ) जन्म क्रिकेट खेलने के लिए ही हुआ है। वह आठ साल की उम्र से मुंबई के मैदानों में खेल रहा है। आप उसकी कड़ी मेहनत देख सकते हो। दर्शकों को भी उसका खेल शानदार लगता है। उसमें थोड़ी सचिन की और थोड़ी सहवाग की झलक दिखती है और जब वह चलता है तो उसमें लारा की भी झलक दिखती है। उन्होंने कहा, ”अगर वह खुद को एकाग्र रखता है और खेल पर ध्यान देता है तो उसका भविष्य उज्ज्वल है।” 

         अपने पहले टेस्ट में शतक लगाने वाले शॉ ने दूसरे टेस्ट मैच के दूसरे दिन 53 गेंद में 70 रन की पारी खेल भारत को शानदार शुरूआत दिलायी। वह दूसरी पारी में भी 33 रन पर नाबाद रहे। यह शॉ के करियर की पहली टेस्ट सीरीज थी। इस सीरीज में 118.5 के बेहतरीन औसत के साथ उन्होंने सबसे ज्यादा 237 रन बनाने और इसलिए वो मैन ऑफ द सीरीज भी चुने गए।

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x