इंदौर में 15 करोड़ का सफाया, स्वच्छता अभियान में महा घोटाला – 


इंदौर खबर –


सफाई में नंबर वन इंदौर में 15 करोड़ का सफाया, स्वच्छता अभियान में महा घोटाला –


नगर निगम के सहायक मंत्री एवं स्वच्छता अभियान के अधिकारी अभय कुमार राठौर के यहां हुई ईओडब्ल्यू की छापामार कार्रवाई में 15 करोड़ के कालाधन का पता चला है। इसी के साथ देश भर में सफाई में नंबर 1 चल रहे इंदौर के स्वच्छता अभियान में घोटाले का खुलासा भी हो गया। अब देखना यह है कि क्या सरकार स्वच्छता अभियान में घोटाले की भी जांच कराती है।

सूत्रों का दावा है कि यदि जांच हुई तो कई मगरमच्छ जाल में फंस जाएंगे। सरल सी दलील है कि बिना संगठित एवं संरक्षित घोटाले के एक अधिकारी इतनी रकम तो नहीं हड़प सकता।

आर्थिक अपराध अन्वेषण ब्यूरो की टीम गुरुवार सुबह कार्रवाई के लिए राठौड़ के गुलाब बाग स्थित घर पर पहुंची। अधिकारियों के मुताबिक राठौर के खिलाफ शिकायत मिली थी कि उनके पास करोड़ों की बेनामी संपत्ति है। सूचना के बाद पड़ताल की गई, जिसमें जानकारी पुख्ता होने के बाद छापेमार कार्रवाई की गई।

टीम ने राठौर के स्कीम नंबर 78, स्कीम नंबर 94, बजरंग नगर और गुलाब बाग स्थित निवास पर एक साथ दबिश दी। टीम अभी संपत्ति का आंकलन कर रही है।
सहायक यंत्री अभय कुमार राठौर को 1995 से स्वचछता अभियान की जिम्मेदारी मिली।

राठौर ने इंदौर की कई पॉश कॉलोनियों में रिश्तेदारों के नाम से संपत्ति खरीदी। इसमें स्कीम नंबर -78, गुलाब बाग कॉलोनी भी शामिल है। गुलाब बाग स्थित तीन मंजिला बंगले में राठौर परिवार के साथ रहते हैं।

इसके अलावा यहीं पर एक तीन मंजिला मकान और है। इसके अलावा राठौर के घर से कमर्शियल बिल्डिंग के दस्तावेज भी मिले, जिसमें हॉस्टल और दुकानें संचालित हो रही हैं।

राठौर के पास प्लॉट, स्कीम 78 में नामी कंपनी के कार का शोरूम, स्किम नंबर – 94 में प्लॉट के दस्तावेज मिले हैं। कार्रवाई में फिलहाल 15 से 20 करोड की बेनामी संपत्ति का खुलासा हुआ है। इनके पास से चार गाड़ियां भी मिली हैं, इसमें लक्जरी कार भी शामिल है।

इसके अलावा टीम को घर से 20 लाख ज्यादा नकद और लाखों रुपए की गोल्ड ज्वैलरी भी मिली है। इसके अलावा 36 जीवन बीमा पालिसी के साथ ही लॉकर भी मिले हैं।

जिनकी जांच की जा रही है। टीम के अनुसार जिस मकान में राठौर रह रहे हैं वह मकान भी उन्होंने रिश्तेदार के नाम से कर रखा है।

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x