लोकसभा चुनाव छत्तीसगढ़ में बाहुबलियों ने भरी हुंकार-

बिलासपुर-

राज्य की हॉट सीटों में शामिल बिलासपुर संसदीय क्षेत्र पर भी पिछले कई चुनावों से भाजपा का कब्जा रहा है। पार्टी ने यहां से अपने सिटिंग एमपी का टिकट काट कर संघ परिवार से जुड़े अस्र्ण साव को मैदान में उतारा है। साव के पिता स्व. अभयराम साव ने तो कभी चुनाव नहीं लड़ा, लेकिन उनके दादा ने जनसंघ के प्रत्याशी के स्र्प में जरहागांव सीट से विधानसभा का चुनाव लड़ा था। साव का मुकाबला कांग्रेस के अटल श्रीवास्तव से हैं। छात्रनेता और अब रियल स्टेट कारोबार से जुड़े श्रीवास्तव विधानसभा टिकट के भी दावेदार थे। यह उनका पहला चुनाव है। इस सीट से बसपा ने उत्तमदास को प्रत्याशी बनाया है।

 

दुर्ग-

पिछले आम चुनाव में कांग्रेस के खाते में जाने वाली इस एकमात्र सीट पर मुख्यमंत्री समेत राज्य के तीन मंत्रियों की प्रतिष्ठा दांव पर लगी हुई है। सीएम भूपेश बघेल, मंत्री रविंद्र चौबे, इस सीट के निर्वतमान सांसद व राज्य में मंत्री ताम्रध्वज साहू व मंत्री स्र्द्र गुस्र् का निर्वाचन क्षेत्र इसी संसदीय सीट में है। पार्टी ने यहां से प्रतिमा चंद्राकर को टिकट दिया है। विधानसभा चुनाव में प्रतिमा को दुर्ग ग्रामीण से प्रत्याशी घोषित करने के बाद पार्टी ने ऐन वक्त पर उनके स्थान पर ताम्रध्वज को चुनाव लड़वा दिया था। चंद्राकर पूर्व कांग्रेस नेता वासुदेव चंद्राकर की पुत्री हैं। इनके मुकाबले भाजपा ने मुख्यमंत्री भूपेश के रिश्तेदार विजय बघेल को टिकट दिया है। विजय ने 2009 में पाटन सीट से भूपेश को हराया था। बघेल नगर पालिका अध्यक्ष भी रह चुके हैं। पिछले विधानसभा चुनाव में पार्टी ने उन्हें टिकट नहीं दिया था। बसपा ने यहां से गीतांजलि सिंह को मैदान में उतारा है।

 

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x