मध्यप्रदेश : जनपद पंचायत सीईओ और उपमंत्री को रिश्वत लेते रंगे हाथों धरा गया – 


लोकायुक्त की कार्रवाई, 

मध्यप्रदेश के नरसिंहपुर जिले में लोकायुक्त की टीम ने बड़ी कार्रवाई को अंजाम दिया है। लोकायुक्त ने नरसिंहपुर कार्यालय में जनपद सीईओ और उपमंत्री को रिश्वत लेते हुए रंगेहाथों गिरफ्तार किया है।

आरोप है कि दोनों ने ग्राम पंचायत सूरजगांव में हुए सीसी रोड निर्माण के मामले में दस हजार रुपये रिश्वत की मांग की थी।घटना के बाद जनपद पंचायत में हड़कंप मच गया।

ये कार्रवाई लोकायुक्त की सात सदस्यीय टीम में डीएसपी के अलावा निरीक्षक मनोज गुप्ता, मंजू किरन तिरगी, आरक्षक जुनैद खान, गोविन्द राजपूत, जीत सिंह ने की है
दरअसल, जनपद पंचायत नरसिंहपुर कार्यालय में जनपद सीईओ श्वेता तुरकर और उपयंत्री राहुल डोले ने सूरजगांव की सचिव चंद्रश्री पटेल से सीसी रोड में अनियमितता को दस हजार की मांग की थी।

उन्होंने पटेल से एक कपड़ा दुकान, शोरूमद्ध का बिल चुकाने कहा था, जो करीब 27 हजार रूपये था। जिसके बदले सचिव से जनपद सीईओ ने नगद राशि की मांग की। जिसकी शिकायत सचिव चंद्रश्री ने जबलपुर लोकायुक्त में की।

शनिवार को जनपद सीईओ श्वेता बिसेन ने सचिव को पैसे लेकर कार्यालय बुलवाया जहां उससे 20 हजार की मांग रखी लेकिन सचिव ने असमर्थता जताते हुए 10 हजार देने की बात कही।

जिसके बाद सीईओ ने कार्यालय में मौजूद उपयंत्री राहुल डोले को उक्त रकम देने को कहा। कार्यालय में जैसे की चंद्रश्री ने 10 हजार रूपये उपयंत्री डोले को सौंपे वैसे ही लोकायुक्त ने रंगे हाथों धर दबोचा। आरोपी सीईओ और उपयंत्री के खिलाफ भष्ट्राचार अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है।

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x