Mamata VS CBI:आज तीसरे दिन ममता ने खत्‍म किया धरना, कहा-अब दिल्‍ली में लड़ेंगे –


नई दिल्ली/ कोलकाता 


पश्चिम बंगाल की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी ने तीसरे दिन मंगलवार शाम को अपना धरना खत्‍म कर दिया। आंध्र प्रदेश के मुख्‍यमंत्री चंद्रबाबू नायडू ने उनसे धरना खत्‍म करने की अपील की थी। ममता ने यह धरना रविवार को कोलकाता के पुलिस आयुक्‍त राजीव कुमार के घर सीबीआइ की टीम के पहुंचने के बाद यह धरना शुरू किया था।  

गौरतलब  है कि ममता बनर्जी सरकार को सुप्रीम कोर्ट से तगड़ा झटका लगा है। सुप्रीम कोर्ट ने सारदा चिटफंड घोटाले में पूछताछ के लिए कोलकाता पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार को सीबीआई के सामने पेश होने का आदेश दिया है।

शीर्ष अदालत ने साथ ही यह साफ किया राजीव की फिलहाल गिरफ्तारी नहीं होगी। बता दें कि बंगाल की सीएम ममता सीबीआइ के खिलाफ तीन दिन से धरने पर बैठीं हुई हैं। सुप्रीम कोर्ट के इस आदेश से उनको झटका लगा है। अदालत ने साथ ही राज्य के मुख्य सचिव, डीजीपी और कोलकाता पुलिस कमिश्नर को मानहानि का भी नोटिस भेजा है।

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद ममता बनर्जी ने कहा कि मैं अभी जल्दबाजी में कोई जवाब नहीं दूंगी। तथ्य देखने के बाद ही कुछ कहूंगी। ममता बनर्जी ने कहा कि नैतिक तौर पर यह हमारी जीत हुई है। केंद्र संविधान का उल्लंघन कर रहा है। जो हालात इस वक्त बन रहे हैं उस पर मेरा दिल रो रहा है। राजीव कुमार ने कभी नहीं कहा कि वह नहीं मिलेंगे।

उन्होंने कहा कि हम सही स्थान पर मिलना चाहते हैं, यदि आप कोई स्पष्टीकरण मांगना चाहते हैं, तो आप आ सकते हैं और हम बैठते हैं। यह एक नैतिक जीत है। हमारे पास न्यायपालिका और सभी संस्थानों के लिए बहुत सम्मान है। हम बहुत आभारी हैं। हम बहुत मजबूर हैं।

राजीव कुमार ने कभी मना नहीं किया : ममता

बिना नोटिस के ही सीबीआइ पुलिस कमिश्नर के घर गई थी। पुलिस कमिश्नर ने पेश होने से कभी मना नहीं किया था। केंद्र सरकार राज्य के काम में दखल देने की कोशिश कर रहा है। उन्होंने कहा कि मैं केवल राजीव कुमार के लिए ये नहीं कर रही बल्कि देश के सभी लोगों के लिए कर रही हूं जिसमें आप सभी भी शामिल हैं।

विपक्षी नेताओं से बात करने के बाद धरना खत्म करूंगी-

धरना जारी रखने के सवाल पर ममता बनर्जी ने कहा कि मैं पहले उन सभी नेताओं से बात करूंगी जो मेरा समर्थन कर रहे हैं। चंद्रबाबू नायडू आज आ रहे हैं। मैं इस मामले को लेकर नवीन पटनायक जी से भी बात करूंगी। मोदी सरकार ने सेंट्रल फोर्स और स्टेट फोर्स को बांटने का काम किया है। ममता बनर्जी ने कहा कि यह सिर्फ मेरी जीत नहीं बल्कि देश की जीत है, संविधान की जीत है, युवाओं की जीत है।

केंद्र सरकार पर लगाया गंभीर आरोप-

केंद्र राज्य को चलाने में हमारा सहयोग नहीं कर रहा है। वह हमें सही तरीके से धन उपलब्ध नहीं करा रहा है। अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए ममता बनर्जी ने कहा कि यह लड़ाई मोदी के खिलाफ नहीं है बल्कि यह लड़ाई केंद्र सरकार के खिलाफ है। मोदी सरकार लोगों से बोलने का अधिकार छीन रही है। जो भी मोदी सरकार के खिलाफ बोलता है उसे डराया जा रहा है।

पीएम बनने के सवाल पर ममता का बड़ा बयान-

प्रधानमंत्री बनने के सवाल पर ममता बनर्जी ने कहा कि देश की जनता मोदी के खिलाफ है। मोदी के हारने के बाद देश की जनता पीएम बनेगी।

मैं सीबीआइ के अधिकारियों या फिर किसी भी एजेंसी के खिलाफ नहीं हूं। मेरा कहना है कि इन लोगों को राजनीतिक दबाव में काम नहीं करना चाहिए। मोदी जी ने संविधान को नष्ट कर दिया, गणतंत्र को नष्ट कर दिया। मेरा कहना है मोदी हटाओ और देश बचाओ।

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x