श्रीलंका में आतंकी हमला : आठ बम धमाकों से दहला कोलंबो, अबतक 207 की मौत, लगभग 500 घायल-

कोलंबो।

 श्रीलंका की राजधानी कोलंबो के कई हिस्सों में रविवार का दिन उस समय ब्लैक डे बन गया जब वहां अचानक सिलसिलेवार बम विस्फोट होने शुरू हो गये। इस हमले में 190 की मौत और 500 से अधिक लोगों के घायल होने की खबर है। बताया जा रहा है कि यह ब्लास्ट 8 अलग-अलग जगहों पर हुए।

 

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक सुबह के वक्त छह जगहों पर यह विस्फोट हुए थे। इसमें तीन चर्च और तीन होटल थे। दोपहर होते-होते धमाकों की संख्या आठ तक पहुंच गई। इसको को लेकर श्रीलंकाई प्रशासन ने राजधानी में कर्फ्यू लगा दिया है। चर्च में इस दौरान ईस्टर की प्रार्थना चल रही थी। इस मामले में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने ट्वीट कर संवेदना व्यक्त की है और कहा कि वह लगातार मामले पर निगाह रखे हुए हैं। श्रीलंका सरकार ने अधिकारिक बयान में बताया कि अब तक 190 लोगों की मौत हो चुकी है, जिसमें 9 लोग विदेशी नागरिक हैं। हालांकि मीडिया रिपोर्ट में विदेशी नागरिकों के मरने की संख्या 35 बताई गई है।

 

पहला हमला सुबह 8.45 बजे कोलंबों के कोचचिकड़े में सेंट एंथोनी चर्च में हुआ। इस समय पर सिलसिलेवार तरीके से दूसरा धमाका कटाना के कटुवापिटीया चर्च में हुआ। तीसरा धमाका बट्टीकलाओ चर्च में हुआ है। इसके अलावा राजधानी कोलंबो के पांच सितारा होटल शंगरी-ला होटल, सिन्नमन ग्रांड और किंग्सबरी में भी धमाके हुए। दोपहर 2.24 बजे सातवां धमका हुआ। इसके बाद दोपहर 2.55 बजे आठवां धमाका हुआ। आठवां हमला आत्मघाती बताया गया है, जिसमें तीन पुलिसकर्मियों की मौत हो गई।

सूत्रों के मुताबिक यह ब्लास्ट उस समय हुआ जब लोग चर्च के अंदर प्रार्थना सभा में शामिल हुए थे। इस दौरान एक के बाद एक बम धमाकों से गिरजाघर दहल उठे। इस मामले में अभी तक पुलिस को कोई सुराग हाथ नहीं लगा है। इलाके में हाई अलर्ट की घोषणा कर दी गई है। इस धमाके में मौत के आंकड़े बढ़ सकते हैं। यह धमाका ऐसे समय पर हुआ है, जब चर्च में भारी संख्या में लोग प्रार्थना के लिए मौजूद थे।

इस हमले में घायलों को अस्पताल पहुंचाया गया। राहतकर्मी घायलों को बचाने में लगे हैं। इस हमले के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आपात बैठक बुलाई है। भारतीय दूतावास ने श्रीलंका में रहने वाले भारतीय नागरिकों की मदद के लिए हेल्पलाइन नंबर +94777903082 +94112422788 +94112422789 जारी किए 

 

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x