मंदिर का ताला तोड़ अति प्राचीन मूर्तियां चोरी

 

चंदौली से संतोष शर्मा की रिपोर्ट

उत्तर प्रदेश के जनपद चन्दौली के अलीनगर थाना क्षेत्र के भुपौली पंप कैनाल के समीप राम जानकी मंदिर से बीती रात चोरों ने ताला तोड़कर उसमें से 6 मूर्ति चोरी कर ले गए।इसकी जानकारी सोमवार की सुबह होते ही पुजारी साध्वी वनदेवी ने पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने जांच पड़ताल में जुटी हुई है।
अलीनगर थाना क्षेत्र के भुपौली गंगा तट पर प्राचीन राम जानकी मंदिर से बीती रात चोरों ने एक कमरा में सो रही पुजारी के दरवाजे का कुंडी बाहर से बंद करने के बाद परिसर में लगा बल्ब निकाल दिया। उसके बाद आसानी से मंदिर के गेट का ताला तोड़कर उसमें रखे अष्टधातु की राम ,लक्ष्मण, सीता ,हनुमान व दो रामलला सहित 6 मूर्ति पर चोरों ने हाथ साफ कर आसानी से भाग निकले। सुबह 4 बजे पुजारी साध्वी वनदेवी अपना दरवाजा खुद बंद घबराने लगी और आवाज देने लगी तो भोर में ही गंगा स्नान करने गए लोगों ने उनका दरवाजा खोला। जब मंदिर का ताला खोलने गई तो देखि कि ताला टूटा पड़ा हुआ है। मंदिर के अंदर मूर्ति गायब है। जिसकी सूचना तत्काल पुलिस को दी। जानकारी मिलते हैं मौके पर सीओ सदर प्रदीप सिंह चंदेल, एसओ अलीनगर अतुल नारायण सिंह सहित फॉरेंसिक टीम मौके पर पहुंचकर जांच पड़ताल शुरू कर दी। देवी ने बताया कि एक मूर्ति जो बची है इसी तरह की अन्य मूर्तियां थी जो पीतल की थी। पुलिस भी अन्य मूर्तियों को भी पीतल मानकर जांच पड़ताल में जुटी है ।जबकि पुजारी का कहना है कि पूर्वजों की जमाने की अष्टधातु की थी जो काफी किसी थी जो लाखों रुपए मूल्य की थी। एस ओ अतुल नारायण सिंह ने बताया कि पुजारी की तहरीर पर अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत कर जांच पड़ताल की जा रही है।
4 वर्ष पूर्व भी चोरों ने पुजारी साध्वी बन देवी को लड्डू में नशीला पदार्थ मिलाकर भोग लगाने के लिए कहां और जैसे ही देवी मंदिर के अंदर भोग लगाना चाही कि असलहा सटाकर चार की संख्या में बदमाशों ने सभी मूर्तियों को एक बैग में समेट कर भाग रहे थे ।शोरगुल सुनकर पंप कैनाल पर कार्य कर रहे मजदूरों ने दौड़ा लिया। जिसमें मूर्तियों से भरा बैग फेककर अंधेरा का फायदा उठाते हुए सभी भाग निकले। सूचना पर पुलिस ने भी पहुंचकर मामले की जांच पड़ताल की उस समय चोरी का प्रयास विफल हो गया।

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x