नूपुर शर्मा और नवीन जिंदल को बीजेपी से बाहर किया गया – पैगंबर मुहम्मद पर की थी टिप्पणी

बीजेपी प्रवक्ता नूपुर शर्मा (Nupur Sharma) को प्राथमिक सदस्यता से निलंबित कर दिया गया है. पैगंबर मुहम्मद पर विवादित टिप्पणी (Objectionable Remarks on Prophet Muhammad) के बाद पार्टी ने उनके खिलाफ ये एक्शन लिया है.

उनके विचारों को ‘विभिन्न मामलों पर पार्टी की स्थिति के विपरीत’ बताते हुए पार्टी ने कार्रवाई की बात कही है. वहीं नवीन कुमार जिंदल को पार्टी से निकाल दिया गया है.

नवीन कुमार जिंदल, दिल्ली बीजेपी के मीडिया हेड हैं. नूपुर शर्मा को छ साल के लिए प्राथमिक सदस्यता निलंबित किया गया है.

नवीन जिंदल ने लिखा कि मेरा पता सार्वजनिक न करें।

ऐसे में अब बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने लेटर जारी करते हुए बताया कि नवीन कुमार जिंदल ने सोशल मीडिया पर सांप्रदायिक सद्भावना भड़काने वाले विचार प्रकट किए हैं. यह भारतीय जनता पार्टी के मूल विचार के विरोध में हैं.

वहीं पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव अरुण सिंह की ओर से जारी एक प्रेस विज्ञप्ति में पार्टी ने कहा है कि भारतीय जनता पार्टी को ऐसा कोई भी विचार स्वीकृत नहीं है जो किसी भी धर्म-संप्रदाय की भावनाओं को ठेस पहुंचाए. भाजपा ना ऐसे किसी विचार को मानती है और न ही प्रोत्साहन देती है.

एडिटेड है वायरल वीडियो: नूपुर शर्मा

हालांकि नूपुर शर्मा का कहना है कि वायरल वीडियो एडिटेड है, जिसे एक फैक्ट चेकर ने शेयर किया है. इस वीडियो के शेयर होने के बाद से उन्हें इस्‍लामिक कट्टरपंथियों से धमकियां मिली हैं. नूपुर शर्मा ने आरोप लगाया कि आल्ट न्यूज के प्रोपराइटर ने उनके खिलाफ ट्रोल को बढ़ावा देने के लिए संपादित वीडियो पोस्ट किया है. उन्होंने सुरक्षा की मांग की.

दूसरी तरफ आल्ट न्यूज के प्रोपराइटर मोहम्मद जुबैर का कहना है कि वीडियो में मैंने कोई एडिटिंग नहीं की है, जो था वो पोस्ट किया है. डिबेट का तीन मिनट का रिकॉर्ड क्लिप ट्विटर पर शेयर किया गया है. नूपुर शर्मा का नाम भी नहीं दिया है. मैंन लिखा था कि ऐसी टिप्पणी को रोक देना चाहिए. धमकियां मुझे भी बहुत मिलती हैं.

नूपुर शर्मा ने मांगी माफी

बता दें कि हाल ही में एक टीवी न्यूज चैनल पर बहस के दौरान बीजेपी प्रवक्ता नुपुर शर्मा ने कथित तौर पर पैगंबर मुहम्मद के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी कर दी थी, जिसको लेकर अल्पसंख्यक समुदाय के लोग भड़के हुए हैं.

जुलूस के दौरान कानपुर भड़की हिंसा 

इसी दौरान बूंदी राजस्थान के मौलाना मुफ्ती नदीम का वीडियो वायरल है नूपुर शर्मा को खुले आम चेतावनी देते हुए –

इसी बीच नूपुर शर्मा के विवादित बयान को लेकर कानपुर में शुक्रवार को जुलूस निकाला गया था. दुकानें बंद कराने के प्रयास के दौरान 2 समुदायों के लोग आपस में भिड़ गए. एक-दूसरे पर पथराव और बम फेंके जाने के बाद वहां कुछ इलाकों में हिंसा शुरू हो गई. झड़पों में कई लोग घायल हुए हैं, जिनमें आधा दर्जन से अधिक गंभीर रूप से जख्मी हैं.

 

सोसलमीडिया पर लिखा गया

सोसलमीडिया पर यह सब चला जिसे सही नहीं ठहराया जा सकता । 

प्रधानमंत्री मोदी जी को भी गाली दी गई। 

 

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x