ईरान के अमेरिका पर मिसाइल अटैक के कुछ देर बाद तेहरान में गिरा प्लेन, 176 की मौत

तेहरान से यूक्रेन जा रहे विमान हादसे में सवार 176 यात्रियों और नौ क्रू मेंबर्स की मौत हो गई है। अब ईरान में बीबीसी संवाददाता ने एक विडियो ट्वीट किया है जिससे आशंका जताई जा रही है कि ईरानी बलों ने ही शायद विमान को निशाना बनाया जिस कारण हादसा हुआ।

इराक में बुधवार सुबह अमेरिकी सेना पर ईरान के मिसाइल हमले के कुछ ही देर बाद तेहरान में यूक्रेन का यात्री विमान क्रैश हो गया। ईरान सरकार के मुताबिक तेहरान एयरपोर्ट के नजदीक हुए इस हादसे में विमान में सवार सभी 167 यात्री और 9 क्रू मेंबर्स मारे गए। यूक्रेन के मंत्री के मुताबिक मारे गए लोगों में 82 ईरान और 63 कनाडा के नागरिक थे। कुछ मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक क्रैश होने से पहले विमान आसमान में लपटों में घिर गया था। ऐसे में विमान हादसे को लेकर तरह-तरह की अटकलें लगाई जा रही हैं।

(अर्ध-सरकारी समाचार एजेंसी ISNA से संबंधित रेड क्रिसेंट के प्रमुख ने बताया कि स्पष्ट रूप से यह असंभव है कि PS-752 में सवार यात्री जीवित बच जाए. विमान में सवार सभी 170 यात्री और चालक दल सवार मारे गए हैं. यूक्रेन के विदेश मंत्री ने भी स्वीकार किया कि सभी 170 यात्री हादसे में मारे गए हैं) 

यूक्रेन की एयरलाइन ने कहा कि बोइंग 737 वर्ष 2016 में बना था और दुर्घटना से महज दो दिन पहले उसकी जांच की गई थी। यूक्रेन अंतरराष्ट्रीय एयरलाइन ने एक बयान में कहा, ‘यह विमान 2016 में निर्मित हुआ था, जिसे एयरलाइन ने (बोइंग) फैक्टरी से सीधे प्राप्त किया था। विमान छह जनवरी 2020 को अपने अंतिम तकनीकी रखरखाव (जांच) से गुजरा था।’

विमान ने इमाम खामनेई अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से उड़ान भरी थी। एयरपोर्ट के वरिष्ठ जनसंपर्क अधिकारी अली खशानी ने कहा कि यूक्रेन इंटरनैशनल एयरलाइंस (यूआईए) द्वारा संचालित बोइंग 737 बुधवार को रोबत करीम काउंटी के एक शहर परांड के पास दुर्घटनाग्रस्त हो गया। खशानी ने कहा कि दुर्घटना के तुरंत बाद ही विमान में आग लग गई, जिसकी वजह तकनीकी खराबी हो सकती है।

ईरान के इराक में अमेरिकी बलों पर बलिस्टिक मिसाइलें दागने के कुछ घंटों बाद यह हादसा हुआ है। ईरान ने उसके रिवोल्यूशनरी गार्ड जनरल कासिम सुलेमानी के अमेरिकी हवाई हमले में मारे जाने के बाद यह कार्रवाई की थी।

 

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x