पीएम मोदी ने राहुल पर कसा तंज, कहा- लोकसभा में आकर ही जाना, ‘गले मिलना’ और ‘गले पड़ना’ में अंतर

नई दिल्ली –

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज संसद को संबोधित किया। इस दौरान पीएम मोदी ने अपनी सरकार की उपलब्धियों को गिनाया और साथ ही उन लम्हों को भी याद किया, जिसकी वजह से संसद का सदन मीडिया की सुर्खियों में रहा। पीएम मोदी ने दोनों सदनों के सांसदों का कार्यवाही के लिए धन्यवाद दिया और हल्के अंदाज में राहुल गांधी पर तंज भी कसा।

पीएम मोदी ने कहा कि पहली बार मुझे पता चला कि गले मिलना और गले पड़ना में क्या अंतर होता है। पहली बार देखा कि सदन में आंखों से गुस्ताखियां होती हैं। पीएम मोदी ( PM Narendra Modi) ने कहा कि 2014 में मैं भी उन सांसदों में से एक था जो पहली बार संसद आए थे। मुझे संसद के बारे में कुछ पता नहीं था। हर चीज को बड़ी जिज्ञासा से देखता था। मगर गली यह मेरे लिए नई थी. मेरे लिए हर चीज यहां नई थी। करीब तीन दशक बाद एक पूर्ण बहुमत वाली सरकार बनी थी। 16वीं लोकसभा में 100 फीसद से अधिक काम हुआ।

विपक्ष पर तंज सकते हुए उन्होंने कहा कि हम कभी-कभी सुनते थे कि भूकंप आएगा, 5 साल में कोई भूंकप नहीं आया। उन्होंने कहा कि इस सदन के सदस्य जब जनता के बीच जाएंगे, तो वे गर्व से इन 5 वर्षों में सदन द्वारा कालेधन और भ्रष्टाचार के विरुद्ध बनाए गए कानूनों के विषय में बता सकते हैं। 5 साल में 203 बिल हमने पास किए, शत्रु संपत्ति पर कानून, सामान्य वर्ग के गरीबों के लिए आरक्षण, ओबीसी कमिशन का निर्माण आदि काम इसी सदन ने किया है। कालेधन के खिलाफ कानून इसी सदन में बना, बेनामी संपत्ति, दिवालिया कानून आदि इसी सदन में बने।

उन्होंने कहा कि नेपाल में भूंकप की आपदा हो, मालदीव में पानी का संकट हो, श्री लंका में चक्रवात हो, भारत ने मानवता के सभी कार्यों में बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। 

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x