दक्षिण कोरिया में PM मोदी – आज अवसरों का देश बन रहा भारत

नई दिल्ली.

  • मोदी का 2015 के बाद यह दूसरा दक्षिण कोरिया दौरा
  • 1988 में ओलिंपिक के सफल आयोजन के बाद शुरू किया गया था सियोल शांति पुरस्कार

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दो दिन के दौरे पर गुरुवार तड़के दक्षिण कोरिया पहुंचे। लॉटे होटल में वे भारतीय समुदाय के लोगों से मिले। यहां वह राष्ट्रपति मून जे-इन से स्पेशल स्ट्रैटजिक पार्टनरशिप को मजबूत करने पर बातचीत करेंगे। मोदी को सियोल शांति पुरस्कार से भी सम्मानित किया जाएगा। 1988 में सियोल ओलिंपिक के सफल आयोजन के बाद यह पुरस्कार शुरू किया गया था। मोदी यह सम्मान पाने वाले 14वें व्यक्ति हैं।

मोदी, इंडिया-कोरिया बिजनेस सिम्पोजियम को संबोधित करेंगे। इसके बाद द्विपक्षीय स्टार्टअप हब को लॉन्च करने के अलावा इंडियन कम्युनिटी से भी बातचीत करेंगे। मोदी महात्मा गांधी की प्रतिमा का भी अनावरण करेंगे। मोदी का यह दूसरा दक्षिण कोरिया दौरा है। मई 2015 में वह साउथ कोरिया गए थे। पिछले साल जुलाई में मून भारत आए थे।

यह मोदी का अंतिम दौरा

लोकसभा चुनाव से पहले मोदी का यह अंतिम विदेश दौरा माना जा रहा है। हालांकि, उनके भूटान यात्रा पर भी जाने की चर्चा है, मगर इसके लिए दोनों देशों की ओर से अब तक कोई तारीख तय नहीं की गई है। इस बीच, दक्षिण कोरियाई राजनयिक ने सियोल में कहा कि 2017 में सत्ता पाने के बाद राष्ट्रपति मून ने देश के पारंपरिक फोकस (जिसमें यूएस, जापान, चीन और रूस शामिल है) के अलावा सदर्न पॉलिसी के तहत भारत को भी इसमें शामिल किया था।

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x