प्रयागराज कुंभ मेला कल्‍याण योजनाओं पर सूचना प्रसार का प्रभावी मंच बना-


॥●॥ प्रयागराज कुंभ मेला कल्‍याण योजनाओं पर सूचना प्रसार का प्रभावी मंच बना-


         

         सूचना और प्रसार मंत्रालय के ब्‍यूरो ऑफ आउटरीच एंड कम्‍युनिकेशन (बीओसी) तथा राज्‍यों के विभागों द्वारा सरकार द्वारा लागू की गई विभिन्‍न कल्‍याणकारी योजनाओं के बारे में लोगों को शिक्षित, सूचित और अभिव्‍यक्‍त करने के लिए अनेक प्रदर्शनियां आयोजित की गई हैं।

         बीओसी ने कुंभ प्रदर्शनी ग्राउंड के सेक्‍टर-1 में त्रिवेणी रोड पर हाई टेक प्रदर्शनी लगाई है। अधिकतर पैनल एक भारत श्रेष्‍ठ भारत, स्‍वच्‍छ और समृद्ध भारत, बापू और सरदार के सपनों का भारत पर हैं। ये प्रदर्शनियां डिजिटल और इंटरैक्टिव हैं। राष्‍ट्रपिता महात्‍मा गांधी और लौह पुरूष सरदार वल्‍लभभाई पटेल के जीवन पर दिखाई गई प्रदर्शनी में लोग डिजिटल पैनलों के माध्‍यम से विस्‍तृत जानकारी लेने के लिए आकर्षित हो रहे हैं। प्रदर्शनी में सरकार की उपलब्धियों को दिखाने वाले फोटो के साथ कुछ पोस्‍टर भी लगाए गए हैं।

        बीओसी के महानिदेशक सत्‍येन्‍द्र प्रकाश ने प्रदर्शनी का उदघाटन किया। यह प्रदर्शनी प्रयागराज कुंभ मेला की पूरी अवधि के दौरान उपलब्‍ध होगी।

॥●॥ उमा भारती ने कुंभ में स्वच्छता प्रबंधों की समीक्षा की, स्वच्छाग्राही सम्मेलन को संबोधित किया

        केन्द्रीय पेयजल एवं स्वच्छता मंत्री उमा भारती ने प्रयागराज में जारी कुंभ मेले में बेहतर स्वच्छता और स्वच्छ भारत के बारे में जागरूकता फैलाने की दिशा में उठाए गए कदमों की समीक्षा की। मेले में स्वच्छता सुनिश्चित करने के लिए उत्तर प्रदेश के विभिन्न जिलों के 1500 स्वच्छाग्राहियों को तैनात किया गया है। स्वच्छाग्राहियों को शौचालयों की साफ-सफाई के काम पर नजर रखने और जागरूकता फैलाने का जिम्मा सौंपा गया है।

          निगरानी का काम आईसीटी एप के माध्यम से किया जाएगा, जिसमें स्वच्छता की स्थिति रिकॉर्ड की जाएगी। उमा भारती ने 50 स्वच्छाग्राहियों को स्वच्छता किट वितरित की और ‘स्वच्छ ग्राम’ की अवधारणा पर आधारित एक प्रदर्शनी का भी उद्घाटन किया।

उमा भारती ने मेले में विशेष रूप से आयोजित किए गए स्वच्छाग्राही सम्मेलन को संबोधित किया तथा कुंभ मेले को साफ-सुथरा और सुरक्षित बनाने की दिशा में मेला और जिला प्रशासन द्वारा किए गए प्रयासों की सराहना की। उन्होंने पिछले दो वर्षों में उत्तर प्रदेश में स्वच्छता कवरेज 48 प्रतिशत से बढ़ाकर 100 प्रतिशत किए जाने तथा राज्य द्वारा अब खुले में शौच से मुक्ति (ओडीएफ-प्लस) पर ध्यान केन्द्रित किए जाने के लिए राज्य सरकार की सराहना की।

          उन्होंने स्वच्छता के कार्य में महिलाओं के योगदान की भी प्रशंसा की। उन्होंने स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) को सफल बनाने के लिए स्वच्छाग्राहियों द्वारा जमीनी स्तर पर किए गए शानदार कार्यों की भी सराहना की।

         इस अवसर पर उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य भी उमा भारती के साथ मौजूद थे। उन्होंने स्वच्छाग्राहियों द्वारा किए गए कार्यों की सराहना करते हुए कहा कि स्वच्छता और साफ-सफाई सभी का सरोकार होना चाहिए।

         उत्तर प्रदेश के शहरी विकास कैबिनेट मंत्री सुरेश खन्ना ने भी मेले को स्वच्छ मेला बनाने के लिए स्वच्छाग्राहियों द्वारा किए गए प्रयासों की सराहना की। 

         इस साल कुंभ मेले में 1.22 लाख सार्वजनिक शौचालय बनाए गए हैं और 20,000 कूड़ेदान रखवाए गए हैं।

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x