नीमा चन्दौली ने मनाया स्थापना दिवस

 

सच की दस्तक डेस्क चन्दौली

नेशनल इंटीग्रेटेड मेडिकल एसोसिएशन नीमा द्वारा पंडित दीनदयाल उपाध्याय नगर स्थित जनेक्स प्लाजा होटल के प्रांगण में अपना स्थापना दिवस मनाया ।

इस अवसर पर यकृत से संबंधित विकारों पर सेमिनार का आयोजन भी किया गया  जिसमें वरिष्ठ गैस्ट्रोलॉजी चिकित्सक डॉ अनुराग ने लीवर पर एल्कोहल के प्रभाव पर प्रकाश डाला और यह बताने की कोशिश की कि सचमुच एल्कोहल शराब लीवर को पूरी तरह से डैमेज कर देता है । उसके प्रयोग से चिकित्सकों ने बचने की सलाह दी और यदि किसी कारणवश लीवर यदि प्रभावित हो गया हो तो उससे किस प्रकार चिकित्सीय सेवा दी जा सकती है इसके बारे में जानकारी दी । वहीं गला कान आंख के विशेषज्ञ ने भी इस गोष्ठी में भाग लिया। ईएनटी से संबंधित रोग और उपचार के विषय में सबके सामने अपनी प्रस्तुति पेश की।

जानकारी हो की नेशनल इंटीग्रेटेड मेडिकल एसोसिएशन चन्दौली द्वारा आज अपना स्थापना दिवस मनाया। इस अवसर पर मुगलसराय के चेयरमैन  सन्तोष खरवार ने कहा कि आयुर्वेदिक चिकित्सा पद्धति सबसे पुरानी पद्धति है और इससे बिना साइड इफेक्ट के हर रोगों का इलाज संभव है ।उन्होंने यह भी कहा कि नीमा चन्दौली को अभी तक कोई स्थान नगर में नहीं मिल पाया है यदि जमीन की व्यवस्था हो जाती है तो नीमा को दे दी जाएगी। इसके लिए प्रयास किया जाएगा।

वही इस अवसर पर उपस्थित डॉ आनंद विद्यार्थी ने सेमिनार में आए हुए डॉक्टरों को संबोधित करते हुए कहा कि सीखने से बड़ा कोई चीज नहीं होता और यही मेडिकल साइंस की विशेषता भी है। उन्होंने यह भी कहा कि आप यदि बीमार हैं तो उस समय तक उम्मीद ना छोड़िए जब तक अच्छा इलाज आपको मुहैया  ना हो  जाए ।

इस अवसर पर जिलाध्यक्ष नीमा एस के यादव ने कहा कि नीमा आयुर्वेदिक चिकित्सकों का एक ऐसा संगठन है जो सब के दुख सुख में काम आता है। चाहे व आमजन हो या हमारा चिकित्सक। हम किसी में भेदभाव नहीं करते। हमारा मुख्य लक्ष्य यदि आम जन है तो हम किस प्रकार उस की सेवा कर सकें ।जिससे उसकी तकलीफ दूर हो सके ।

वहीं कार्यक्रम का संचालन कर रहे नीमा के जिला सचिव डॉ आर के शर्मा ने कहा कि भगवान धन्वंतरी को नमन करते हुए हम लोग मरीजों की सेवा करते हैं और सस्ती और अच्छी चिकित्सा देकर हम लोगों को ठीक करने का प्रयास करते हैं। नीमा आयुर्वेदिक चिकित्सकों का ऐसा संगठन है जो हर सामाजिक कार्य में करने के लिए तत्पर रहता है। कार्यक्रम में मुख्य रूप से डॉ मृत्युंजय डॉक्टर के के सिंह सहित काफी संख्या में नीमा के सदस्य और चिकित्सक उपस्थित थे।

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x