Pulwama Terror Attack पर इमरान खान को मिला मुशर्रफ का साथ- पढ़े रिपोर्ट

Pulwama Terror Attack का इल्जाम पाकिस्तान पर है। हमले के तुरंत बाद पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन जैश-ए-मुहम्मद ने इसकी जिम्मेदारी भी ले ली थी। पड़ोसी देश के प्रधानमंत्री इमरान खान तो भारत को युद्ध तक की धमकी दे चुके हैं।

पूर्व तानाशाह राष्ट्रपति जनरल परवेज मुशर्रफ ने एक टीवी चैनल के साथ बातचीत में कहा कि Pulwama Terror Attack तो जैश-ए-मुहम्मद ने किया, इसके लिए पाकिस्तान पर इल्जाम लगाना ठीक नहीं है।

पूर्व तानाशाह ने कहा, लश्कर और जैश जैसे संगठन 1991 से अस्तित्व में हैं, ये सोचना बिल्कुल गलत है कि वो पाकिस्तानी सरकार के नियंत्रण में है। परवेज मुशर्रफ ने कहा, ‘जैश के प्रति न तो मैं सहानुभूति रखता हूं और न ही कोई अन्य पाकिस्तानी नागरिक। Pulwama Attack जैश-ए-मुहम्मद ने किया है और ये उसने खुद ही माना है, लेकिन उससे ऐसा करने को पाकिस्तान सरकार ने कहा ये सोचना ठीक नहीं। मुझे नहीं लगता कि पाकिस्तानी सरकार इसमें शामिल है।’

यही नहीं मुशर्रफ ने तो भारत सरकार को नसीहत तक दे डाली। उन्होंने कहा, ‘अगर भारत Pulwama Terror Attack जैसी घटनाओं से बचना चाहता है तो उसे कश्मीर समस्या सुलझाने पर ध्यान देना चाहिए।’ पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति ने कहा, ‘इमरान खान पाकिस्तान के सबसे स्वतंत्र प्रधानमंत्रियों में से एक हैं। भारत को उनकी बात सुननी चाहिए। भारत में बदले का जो शोर सुनाई दे रहा है वह भी बंद होना चाहिए।’

मुशर्रफ यहीं नहीं रुके। उन्होंने भारत को धमकी तक दे डाली। उन्होंने कहा, ‘पाकिस्तान कोई भूटान जैसा देश नहीं है, जहां भारत जाएगा और हमला कर देगा। पाकिस्तान के खिलाफ अगर कुछ भी होता है तो वह भारत की बड़ी गलती होगी और पाकिस्तान पूरी ताकत के साथ इसका जवाब देगा।’

पीएम मोदी पर किया हमला-

पूर्व पाकिस्तानी तानाशाह परवेज मुशर्रफ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला करने से भी नहीं चूके। उन्होंने कहा, Pulwama Terror Attack में शहीद हुए सीआरपीएफ जवानों और कश्मीरी लोगों के लिए मोदी के दिल में कोई वास्तविक भावना नहीं है। मुशर्रफ ने कहा, ‘मोदी के दिल में इन लोगों के लिए कोई आग नहीं है। अगर होती तो पहले वो कश्मीर का मसला सुलझाते।’

परवेज मुशर्रफ ने भारत पर आरोप लगाते हुए कहा कि वह फ्रांस और अमेरिका के साथ मिलकर पाकिस्तान पर दोषारोपण कर रहा है और उसे इसे बंद करना चाहिए। हम पर आरोप मत लगाएं कि हम भारत के अंदरूनी मामलों में दखल दे रहे हैं, आप हमारे मामलों में दखल नहीं देते? आपने क्यों पाकिस्तान के दो टुकड़े करने में मदद की, क्या आपने पूर्वी पाकिस्तान में उस वक्त दखल नहीं दिया था। उन्होंने कहा कि आप फ्रांस और अमेरिका के साथ मिलकर पाकिस्तान को ब्लैकलिस्ट करना चाहते हैं। ऐसा करना बंद करें।

पूर्व पाकिस्तानी तानाशाह ने तो साल 2016 में भारतीय सेना द्वारा पीओके में हुई सर्जिकल स्ट्राइक को भी नकार दिया। उन्होंने कहा, ‘भारत ने कोई सर्जिकल स्ट्राइक नहीं की थी। आप हमेशा सर्जिकल स्ट्राइक की बात करते हैं, मैं आपको स्पष्ट रूप से बता दूं कि यह सब एक तमाशा है और कुछ नहीं। भारत ने पाकिस्तान में आज तक कोई सर्जिकल स्ट्राइक नहीं की।’

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x