पुरानी पेंशन को लेकर शिक्षकों की हुंकार

खबर चन्दौली से

बेसिक शिक्षक वेलफेयर एसोसिएशन व टेट प्राथमिक शिक्षक एसोसिएशन की संयुक्त बैठक रविवार की शाम गंजख्वाजा स्थित डॉ राम मनोहर लोहिया इंटर कॉलेज परिसर में हुई। इसमें पुरानी पेंशन की बहाली सहित कई मुद्दों पर विचार विमर्श किया गया। साथ ही आगामी 28 अक्टूबर को पुरानी पेंशन की बहाली की मांग को लेकर संसद का घेराव करने की रणनीति पर भी विचार विमर्श किया गया।

  • इस दौरान संगठन के संरक्षक शिक्षक नेता विरेंद्र सिंह यादव ने कहा कि एक तरफ जहां सांसद व विधायक पुरानी पेंशन का लाभ ले रहे हैं। वहीं शिक्षक व कर्मचारियों को इससे वंचित कर रहे हैं। जबकि शिक्षक व कर्मचारी अपनी पूरी जिंदगी का स्वर्णिम काल नौकरी में ही लगा देता है। वहीं सांसद और विधायक सिर्फ एक दिन के लिए भी चुन लिए जाने पर पुरानी पेंशन का फायदा उठा रहे हैं। इतना ही नहीं यदि कोई विधायक सांसद हो जाता है तो उसे दोनों ही पदों की पेंशन आजीवन मिलती रहती है। नई पेंशन स्कीम शिक्षकों व कर्मचारियों के साथ पूरी तरह से धोखाधड़ी है। पुरानी पेंशन बहाली की मांग को लेकर आगामी 28 अक्टूबर को पूरे देश के शिक्षक व कर्मचारी दिल्ली में संसद का घेराव करेंगे। इसके लिए सैकड़ों शिक्षक व कर्मचारी 26 अक्टूबर को दिल्ली के लिए कूच करेंगे। अंत में बीते दिनों चकिया के शिक्षक उपेंद्र कुशवाहा के आकस्मिक निधन पर आकस्मिक निधन पर दो मिनट का मौन रखकर शोक जताया गया। साथ ही उनके परिजनों के लिए आर्थिक मदद का भी निर्णय लिया गया। इस मौके पर कन्हैयालाल गुप्ता, सुरेशचंद्र, रिंकू यादव, अभिषेक रंजन, सुनील सिंह, चमनलाल, हंसराज, सदानन्द, अश्वनी मौर्या, देवेन्द्र प्रताप सिंह, नीतीश प्रजापति, ज्योति मिश्रा, दिवाकर सिंह, बृजेश यादव, मृत्युंजय, जितेंद्र, ओमप्रकाश, रविंद्र कुमार, शांतनु आदि मौजूद रहे

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x