निर्दलीय विधायक राजा भैया लोकसभा चुनाव लड़कर ठोकेंगे ताल:


केंद्र सरकार के खिलाफ दिग्गजों ने खोला मोर्चा निर्दलीय विधायक राजा भैया लोकसभा चुनाव लड़कर ठोकेंगे ताल: ‘जनसत्ता’ के जरिए सत्ता के शीर्ष पर पहुंचने का प्लान.!!


नई दिल्लीl पिछले 25 साल से निर्दलीय विधायक रघुराज प्रताप सिंह (राजा भैया) ने अब अपनी राजनीतिक पार्टी बनाने का फैसला किया हैI माना जा रहा है कि 30 नवंबर को अपने नए दल ‘जनसत्ता’ पार्टी का ऐलान कर सकते हैंl उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ से कुंडा विधानसभा सीट से निर्दलीय विधायक रघुराज प्रताप सिंह (राजा भैया) अपनी राजनीतिक पार्टी बनाने की कवायद शुरू कर दी हैI सूत्रों की मानें तो इसके लिए उन्होंने अपने दल का नाम भी तय कर लिया हैI उनकी पार्टी का नाम ‘जनसत्ता पार्टी’ हो सकता हैI हालांकि उन्होंने अभी तक इसे लेकर कोई औपचारिक ऐलान नहीं किया हैl 30 नवंबर को लखनऊ में होने वाली रैली में रघुराज प्रताप सिंह अपनी नई पार्टी का नाम और पदाधिकारियों का ऐलान कर सकते हैंl रघुराज प्रताप से जुड़े रिंकी सिंह ने बताया कि नई पार्टी बनाने को लेकर कैंपेन चलाया गया था, जिसमें ज्यादातर लोगों का मानना था कि किसी भी पार्टी को समर्थन देने के बजाए अपनी पार्टी बनाई जाएl इसी के बाद नई पार्टी बनाने का निर्णय किया गया हैI सूत्रों की मानें तो राजा भइया के करीबी कैलाशनाथ ओझा ने चुनाव आयोग के पास नई पार्टी के पंजीकरण के लिए आावेदन भी किया हैI माना जा रहा है कि रघुराज प्रताप सिंह अपनी पार्टी का गठन करके लोकसभा चुनाव 2019 में अपने उम्मीदवार खड़े कर सकते हैंl राजा भैया के कई उत्साही समर्थक नवगठित पार्टी के नाम के साथ उनकी तस्वीर और पोस्टर भी कार्यकर्ताओं के पास पहुंच गए हैंl बता दें कि रघुराज प्रताप सिंह ने 26 साल की उम्र में 1993 में पहली बार कुंडा विधानसभा सीट से निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर जीत हासिल की थीl इसके बाद से वे लगातार इसी सीट से निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर जीत हासिल करते आ रहे हैंl उन्होंने सियासत में पहला कदम 26 साल की उम्र में रखाl इस तरह से राजा भैया 30 नवंबर को अपने राजनीतिक जीवन के 25 साल पूरे करने जा रहे हैंI इसीलिए 30 नवंबर को लखनऊ में एक बड़ा समारोह किया जा रहा है. माना जा रहा है कि इसी कार्यक्रम में वो अपनी नई पार्टी की घोषणा कर सकते हैंl

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x