देवदूत बन जीआरपी जवान ने बुजुर्ग की बचायी जान

सच की दस्तक डेस्क चन्दौली

 

जाको राखे साइयां मार सके न कोई बाल न बांका कर सके जो जग बैरी होय कहावत पंडित दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन पर रविवार की दोपहर में उस समय चरितार्थ हुई जब मौत की आगोश में गया बुजुर्ग को जीआरपीएफ के जवान ने खींचकर नई जिंदगी दे डाली। जिसकी नोगे ने भूरी-भूरी प्रशंसा करते नही थके।
जानकारी हो की पंडित दीनदयाल जंक्शन पर रविवार को अपराहन 2ः48पर एक वृद्ध प्लेटफॉर्म की बिल्कुल किनारे बैठा था तभी एक ट्रेन उसी प्लेटफार्म पर आ गई। इंजन से मुश्किल से 2-3गज का फासला रहा होगा तभी सीआरपीएफ का जवान अभिषेक पाण्डेय ने उसी खींचकर मौत की आगोश से बचा लिया। इस संबंध में प्रत्यक्षदर्शीयों ने बताया कि जब बुजुर्ग प्लेटफार्म के किनारे बैठा था तभी सियालदह एक्सप्रेस आ गई। उसी समय उसी प्लेटफार्म पर मौजूद सीआरपीएफ का जवान अभिषेक पाण्डेय की नजर उस बुजुर्ग पर पड़ गई। अपनी जिंदगी को दांव पर रखकर वह दौड़ पड़ा और दो-तीन गज की फासले से उसी पल भर में एक नई जिंदगी के रूप में खींच कर ले आया। जो इस घटना को देखा जीआरपी के जवान की तारीफ में कसीदे पढ़ने लगा यह वाकया सीसीटीवी कैमरे में भी कैद हो गई।

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x