बिहार में कोरोना संक्रमितों की संख्या 3359

सच की दस्तक डेस्क पटना (प्रभाकर कुमार)
विश्व की वैशिक महामारी में बिहार में कोरोना संक्रमितों की संख्या 3359 हो गई है। कोरोना से शुक्रवार को राज्य में चार मरीजों की मौत हुई। राज्य में मृतकों का आंकड़ा बढ़कर 20 हो गया है। 1209 मरीज स्वस्थ हुए हैं। बिहार के सभी जिलों के लोक सेवा केंद्रों (आरटीपीएस काउंटर) को जल्द खोला जाएगा। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इसकी हरी झंडी दे दी है। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिया है कि सोशल डिस्टेंसिंग का ख्याल रखते हुए ये केंद्र फिर से खोले जाएं।20.46 लाख लोग बिहार पहुंचे विभिन्न राज्यों से लॉकडाउन के दौरान शुक्रवार तक 1431 ट्रेनों से 20 लाख 46 हजार लोग बिहार पहुंचे हैं। क्वारैंटाइन सेंटरों में क्वारैंटाइन अवधि पूरी कर 6.21 लाख लोग अपने घर चले गए हैं। अब भी 12909 सेंटरों में 6.49 लाख लोग रह रहे हैं। तीन मई के बाद से बिहार आने वाले 2310 प्रवासी कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। इनमें569महाराष्ट्र, 503 दिल्ली और 325 गुजरात से आए हैं।नीतीश बोले- दूसरे राज्यों में फंसे बिहार के लोगों को एक-दो दिन में वापस लाएं दूसरे प्रदेशों में अब भी फंसे बिहार के लोगों को एक-दो दिनों के भीतर वापस लाया जाएगा। सीएम नीतीश कुमार ने अफसरों को दूसरे राज्यों से संपर्क करके इस संबंध मेंआवश्यक कार्रवाई का आदेश दिया। मुख्यमंत्री ने कहा कि बाहर से आ रहे लोगों की अधिक से अधिक जांच कराई जाए। क्वारैंटाइन सेंटर में रह रहे नए लोगों को पुराने लोगों से अलग रखा जाए। क्वारैंटाइन सेंटर और होम क्वारैंटाइन में रह रहे सभी प्रवासियों की नियमित स्क्रीनिंग और जांच हो।निजी व्यावसायिक भवनों व होटलों में भी बनेंगे आइसोलेशन सेंटर।सीएम ने कहा कि सभी जिलों में सुविधाओं के साथ आइसोलेशन बेड की संख्या बढ़ाई जाए। बड़ी संख्या में सरकारी भवनों का निर्माण हुआ है। ऐसे जो भी भवन कार्यरत नहीं है, वहां आइसोलेशन सेंटर बनाएं जाए। इसके अलावा निजी व्यवसायिक भवनों और होटलों में भी जरूरत के हिसाब से आइसोलेशन सेंटर बनाया जा सकता है।सासाराम: क्वारैंटाइन सेंटर के खाने में मिला कीड़ा, हंगामा।सासाराम प्रखंड मुख्यालय में स्थित प्रोजेक्ट बालिका उच्चतर माध्यमिक विद्यालय के भवन में बने प्रखंड क्वारैंटाइन सेंटर में प्रवासियों को दिए जाने वाले भोजन में बड़े बड़े कीड़े मिले, जिसे देख प्रवासी मजदूर भड़क गए। प्रवासियों ने कुव्यवस्था के खिलाफ नारेबाजी करते हुए हंगामा किया। मजदूरों ने बताया कि हम लोगों को यहां प्रशासन के द्वारा कोरोना संदिग्ध मानकर रखा गया है, लेकिन जिस तरह से यहां कुव्यवस्था है उससे हम किसी अन्य रोग के शिकार जरूर हो जाएंगे।गया: ट्रेन की चेन पुलिंग कर 60 यात्री उतरे।गया जंक्शन पर श्रमिक स्पेशल ट्रेनों से प्रवासियों के आने का सिलसिला जारी है। 24 घंटे में 13 ट्रेनों से विभिन्न जिलों के 1390 प्रवासी उतरे। डीडीयू-गया रेल लाइन के इस्माइलपुर स्टेशन के पास नई दिल्ली-भूवनेश्वर राजधानी स्पेशल ट्रेन से कूदकर चार यात्री भाग गए। वहीं, दांकुर से हावड़ा जाने के क्रम में श्रमिक स्पेशल ट्रेन को प्रवासियों ने डेहरी ऑन सोन स्टेशन के पास चेन पुलिंग कर दिया। ट्रेन से उतरे 60 लोगों को आरपीएफ और जीआरपी ने पकड़कर स्थानीय प्रशासन को स्क्रीनिंग व क्वारैंटाइन के लिए सौंपा।कुल संक्रमित 3359: पटना 235, रोहतास 202, मधुबनी 190, बेगूसराय 180, खगड़िया 153, मुंगेर 149, भागलपुर 137, कटिहार 134, जहानाबाद 131, बक्सर 115, बांका 111, गोपालगंज 109, नालंदा 106, पू. चंपारण 94, नवादा 84, सीवान, पूर्णिया और शेखपुरा में 72-72, दरभंगा और समस्तीपुर में 69-69, गया 68, औरंगाबाद और कैमूर में 67-67, भोजपुर 66, वैशाली 65, सुपौल 60, सहरसा 57, सारण 53, मधेपुरा 52, सीतामढ़ी 50, अरवल और मुजफ्फरपुर में 43- 43, प. चंपारण 42, लखीसराय 37, किशनगंज और जमुई में 33-33, अररिया 30 और शिवहर में 7 मरीज मिले।अब तक 20 की मौत: पटना, खगड़िया, सीवान, भोजपुर और वैशाली में 2-2 और मधेपुरा, रोहतास, बेगूसराय, मुंगेर, जहानाबाद, पू. चंपारण, भागलपुर, सारण, सीतामढ़ी व नालंदा में एक-एक मरीज की मौत हुई।

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x