चंदौली के मनराजपुर में पीड़ित परिवार से मिले पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव 

सच की दस्तक न्यूज डेस्क चन्दौली 

चंदौली जनपद के मनराजपुर में पीड़ित परिवार से मिले अखिलेश यादव मिले  और कहा की बच्ची को हम न्याय दिलाएंगे, हाईकोर्ट के जज की देखरेख में जांच हो , सरकारी जांच पर हमे भरोसा नहीं
जानकारी हो की राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव सोमवार को चंदौली पहुंचे। यहां पुलिस दबिश के दौरान जान गंवाने वाली युवती के परिवार वालों से उन्होंने मुलाकात की। प्रेस कॉन्फ्रेंस कर पुलिस प्रशासन और सरकार पर जमकर हमला बोला। अखिलेश ने कहा कि उस बच्ची को न्याय दिलाने की लड़ाई हम लड़ेंगे। हमें सरकारी जांच पर भरोसा नहीं। हाईकोर्ट के सिटिंग जज की देखरेख में जांच हो, तभी पीड़ित परिवार को न्याय मिलेगा।

अखिलेश ने कहा, ‘जो सरकार पुलिस को चुनाव जिताने में लगा दे, उस सरकार से क्या उम्मीद करोगे। दलाली का सेंसेक्स थाने में बढ़ रहा है। जाति के आधार पर थानों में काम हो रहा है। यूपी और बिहार की सरकार को जगना चाहिए कि किस तरह शराब का खेल चल रहा है। जाति के आधार पर काम कराने वाले आज खुद जाति के आधार पर सुनवाई कर रहे हैं। जनप्रतिनिधि के दबाव में यूपी सरकार यह कर रही है कि कब किसे फंसाना है।
ललितपुर के थाने में बुलडोजर कब चलेगा 
अखिलेश ने कहा, ‘ललितपुर में एक बेटी के साथ
जिस सरकार के पुलिस वालों ने रेप किया। वहीं जाकर मुख्यमंत्री ने कहा कि यूपी में रामराज्य आ गया है। ये सरकार जो बुलडोजर लेकर चल रही है, बताइए कि ललितपुर के थाने में बुलडोजर कब चलेगा। फिरोजाबाद में भी पुलिस की दबिश में महिला की जान गई। हो सकता है यहां भी पुलिस बालू के दलालों से मिली हो । हमें पुलिस पर भरोसा नहीं है’।
बता दें कि सप्ताहभर पहले चंदौली के दें मनराजपुर में पुलिस बालू कारोबारी कन्हैया यादव के घर दबिश देने पहुंची थी। इस दौरान कन्हैया यादव की बड़ी बेटी निशा की मौत हो गई थी। परिजनों ने आरोप लगाया था कि पुलिस ने युवती पिटाई की, जिसके बाद उसकी मौत हो गई। इस मामले में इंस्पेक्टर समेत 6 पुलिसवालों के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का केस दर्ज हुआ है।
अखिलेश बोले- यूपी में पुलिस दबंगई दिखाने जाती है अखिलेश यादव ने वाराणसी एयरपोर्ट पर कहा कि यूपी में थाने अराजकता के केंद्र बन गए हैं। पुलिस यहां दबिश देने नहीं बल्कि दबंगई दिखाने जाती है। बेटी और परिवार कह रहा है कि पुलिस ने जान ली। वहां सरकार की जांच पर कैसे भरोसा किया जा सकता है। उच्च स्तरीय जांच हाईकोर्ट के सिटिंग जज की निगरानी में हो तो शायद परिवार को न्याय मिल सकेगा।
यूपी में न नौकरी-न रोजगार
ज्ञानवापी प्रकरण को लेकर अखिलेश यादव ने कहा कि बीजेपी नहीं चाहती है कि समाज में शांति रहे। समाज में नौकरी – बेरोजगारी और महंगाई के सवाल पर बात न हो। आज सोचिए दुनिया में डॉलर कहां पहुंच गया और रुपया कहां है? सारे संसाधन कुछ लोग खरीदे ले रहे हैं। यूपी में न नौकरी है, न रोजगार है।
ज्ञानवापी प्रकरण को लेकर अखिलेश यादव ने कहा कि बीजेपी नहीं चाहती है कि समाज में शांति रहे। समाज में नौकरी – बेरोजगारी और महंगाई के सवाल पर बात न हो। आज सोचिए दुनिया में डॉलर कहां पहुंच गया और रुपया कहां है? सारे संसाधन कुछ लोग खरीदे ले रहे हैं। यूपी में न नौकरी है, न रोजगार है।
महंगाई और बेरोजगारी के लिए जनता को खुद आगे आना होगा। आप बताइए आटा की क्या कीमत होगी। गेहूं की सरकारी खरीद नहीं हुई है। बिजली महंगी हो गई है। गंगा में मछलियां डालते ही मर जा रही हैं। इसका मतलब गंगा में ऑक्सीजन नहीं कार्बन डाई ऑक्साइड बह रही है। वहीं, शिवपाल यादव के सवाल पर अखिलेश ने कहा कि यह कोई सवाल नहीं है। वहीं, हम आजम खान के वकील के नियमित संपर्क में हैं।
चंदौली के मनराजपुर में अखिलेश यादव के पहुंचने से पहले घर को बैरिकेड कर दिया गया है। पीड़िता निशा के घर के बाहर काफी संख्या में लोग जुटे हैं।

 

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x