ग्राम पेयजल योजना अन्तर्गत बनी गांवों मे पानी की टंकियां शो शो

सच की दस्तक डेस्क सोनभद्र।(शिव प्रकाश पाण्डेय)

ग्राम पेयजल योजना अन्तर्गत बनी गांवों मे पानी की टंकियां सिर्फ ढांचा बन कर खड़ी हैं । जिम्मेदार विभाग जल निगम के लोग टंकियों के निर्माण जो भ्रष्टाचार किए सो किए अब सालों से इनके रखरखाव पर भी करोडों रुपए बंदरबांट कर रहे हैं, बावजूद इसके शासन की मंशा के अनुरुप गांव मे पेयजल आपूर्ति सुनिश्चित कराने हेतू बनी पानी की टंकी से एक भी दिन पानी आपूर्ति नही की जा सकी। पूर्वांचल नव निर्माण मंच के अध्यक्ष श्रीकांत त्रिपाठी तथा चतरा विकास खंड के अध्यक्ष मनोज चौबे ने मुख्यमंत्री पोर्टल पर शिकायत दर्ज करा कर बताया की चतरा विकास खंड के बेलगाईं ग्राम मे वर्ष 2015 मे एक करोड़ चौबीस लाख उन्हत्तर हजार रुपए खर्च कर सौ किलो लीटर क्षमता की टंकी बनाई गई जिसमे नलकूप, पंपिंग प्लांट, क्लोरिनेटिंग प्लांट के साथ वितरण प्रणाली के लिए सवा चार किलोमीटर पाईप लगाकर लगभग अठारह सौ लोगों को पानी आपूर्ति किए जाने की व्यवस्था की थी, परंतु आज तक पानी आपूर्ति सुरू नही है । नेता द्वय ने बताया कि बेलगाईं से सटे चपईल गांव सहित दर्जनो गांव मे करोड़ो करोड़ रुपये ग्राम पेयजल योजना अन्तर्गत खर्च करने के बावजूद रहवासियों को पानी के लिए संघर्ष करना पड़ता है, जो दुर्भाग्यपूर्ण है। नेता द्वय ने मुख्यमंत्री पोर्टल पर शिकायत दर्ज करा कर गांवों मे बनी पानी टंकियों से पानी आपूर्ति सुनिश्चित कराने की मांग करते हुए चेतावनी भी दी कि यदि विभाग हीलाहवाली करेगा तो जिलाधिकारी तथा मुख्यमंत्री को ज्ञापन सौंपकर शिकायत की जायेगी तथा आंदोलन प्रदर्शन भी पूर्वांचल नव निर्माण मंच करने को बाध्य होगा।

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x