घर-घर पहुंची स्वास्थ्य विभाग की टीम, लोगों की हुई थर्मल स्क्रीनिंग

सच की दस्तक डेस्क चन्दौली

कोविड-19 के अंतर्गत विशेष सर्विलान्स अभियान 05 जुलाई से 15 जुलाई तक चलाया गया जिसमें जनपदवासियों के घर पर ही स्वास्थ्य विभाग की टीम ने थर्मल स्क्रीनिंग की और साथ ही प्रत्येक व्यक्ति की स्वास्थ्य संबंधी जानकारी भी एकत्रित की। वहीं हॉट स्पॉट क्षेत्रों में 20 जुलाई से 24 जुलाई तक प्रत्येक व्यक्ति की घर पर ही हैल्थ स्क्रीनिंग की गयी। जनपद में कोरोना के उपचाराधीन की संख्या बढ़ने पर स्वास्थ्य विभाग पूरी मुस्तैदी से कार्य कर रहा है। इसके लिए प्रशासन के नेतृत्व में स्वास्थ्य विभाग की ओर से प्रत्येक स्तर पर निगरानी की जा रही है।
पीडीडीयू नगर की आबादी 1.26 लाख है। 10 दिवसीय अभियान में लगभग 95,000 लोगों की स्क्रीनिंग की गई। साथ ही हॉट स्पॉट क्षेत्र में 20 से 24 जुलाई तक 1,494 घरों का सर्वे हुआ जिसमें 7,286 व्यक्तियों की स्क्रीनिंग की गयी। इस दौरान प्राथमिक लक्षण जैसे बुखार, खांसी और सांस लेने में तकलीफ आदि में से सिर्फ खांसी के 10 मरीज चिन्हित किए गए जिन्हें चिकित्सीय जांच और परामर्श के लिए निर्देशित किया गया है। इसके साथ ही अभियान के दौरान मधुमेह अथवा शुगर के 165, उच्च रक्तचाप के 25 और हृदय रोग के सिर्फ 3 मरीज चिन्हित किए गए जिन्हें नियमित चिकित्सीय परामर्श के लिए निर्देशित किया गया।
पंडित दीनदयाल उपाध्याय नगर स्थित राजकीय महिला चिकित्सालय के प्रभारी चिकित्साधीक्षक डॉ आकिफ़ अहमद ने बताया कि इलाज कराने पहुंच रहे प्रत्येक व्यक्ति की थर्मल स्क्रीनिंग की जा रही है उसके बाद ही उसका इलाज किया जा रहा है। लॉकडाउन के बाद से करीब दो महीने तक जनपद में एक भी कोविड पॉज़िटिव मरीज नहीं थे लेकिन अब प्रतिदिन बढ़ते कोरोना मामलों को देखते हुये स्वास्थ्य विभाग पूर्ण रूप से सक्रिय है और कोविड-19 के उपचाराधीन को स्वस्थ करने के लिए स्वास्थ्य विभाग की प्राथमिकता बन चुकी है। इसके लिए टीम घर-घर पहुंचकर सभी की स्क्रीनिंग कर रही है साथ ही टीम द्वारा हॉट स्पॉट क्षेत्र में भी गहन जाँच की जा रही है जिससे अन्य लोगों को सुरक्षित रखा जा सके।
डॉ आकिफ ने बताया कि इस दौरान लोगों में अब छोटी-छोटी बीमारियों के लिए डर देखने को मिल रहा है जिसकी वजह से वह चिकित्सालय में आने और इलाज कराने से भी डर रहे हैं लेकिन इस डर को सतर्कता में बदलना बेहद जरूरी है ताकि सभी अपने स्वास्थ्य के प्रति सचेत हो सकें और जल्द से जल्द जांच कराकर उसका इलाज करा सकें। स्वास्थ्य विभाग की प्राथमिकता सभी लोगों को चिकित्सीय एवं स्वास्थ्य सुविधा मुहैया कराना है।
मेडिकल असिस्टेंट सर्वेश राय ने बताया कि अभियान के दौरान लोगों को कोरोना के बचाव एवं रोकथाम के लिए विभिन्न उपाय भी बताये जा रहे हैं। आशाओं की मदद से टीम ने हॉट स्पॉट क्षेत्रों में पहुंचकर घर मे मौजूद प्रत्येक सदस्यों की जानकारी लेकर स्क्रीनिंग की और लोगों को स्वास्थ्य परामर्श भी दिया।

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x