तिमाही गर्भनिरोधक ‘अंतरा’ इंजेक्शन का हुआ शुभारंभ

सच की दस्तक न्यूज़ डेस्क चन्दौली
जनपद मे परिवार नियोजन कार्यक्रम के अंतर्गत तिमाही गर्भनिरोधक ‘अंतरा’ इंजेक्शन की शुरुआत विगत दिवस नौ उपकेन्द्रों व दो प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रो पर किया गया। इस दौरान महिलाओं को अंतरा इंजेक्शन के लाभ और महत्व के बारे में बताया गया। अनचाहे गर्भ को रोकने व बच्चों मे पर्याप्त अंतर रखने के लिए सरकार द्वारा महिलाओं को स्वास्थ्य केन्द्रों पर नि:शुल्क अंतरा इंजेक्शन की सुविधा दी गयी है।
जनपद के चकिया प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के अंतर्गत दो अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों शिकारगंज और रामपुर कला में अंतरा इंजेक्शन की शुरुआत प्रभारी चिकित्साधिकारी डॉ सुजीत द्वारा की गयी। साथ ही चकिया पीएचसी के अंतर्गत क्षेत्र उपकेंद्र पर्वतपुर, नेवाजगंज, कुआं, इनौती दक्षिणी, हाजीपुर, गर्वा उत्तरी, भीषमपुर, अमरा, जियनपुरा एवं सिकंदरपुर पर भी इसकी शुरुआत की गयी। इस मौके नौ लाभार्थियों को अंतरा इंजेक्शन लगाया गया। इस दौरान बीपीएम, एएनएम व आशा संगिनी, आशा एवं अन्य लोग उपस्थित थे। मौके पर एएनम चंद्रावती देवी आशा सुपरवाइजर शशि बाला देवी आंगनबाड़ी कार्यकर्ता सरोज देवी आशा पूनम पांडे प्रियंका देवी मंजू देवी समाज सेवक राजन मोदनवाल उपस्थित रहे।
बीपीएम अखिलेश कुमार ने बताया कि परिवार नियोजन के आधुनिक साधन अंतरा इंजेक्शन के लिए अब इच्छुक महिलाओं को उनके नजदीक ही इस सुविधा का लाभ मिल सकेगा। अनचाहे गर्भ को रोकने व बच्चों में पर्याप्त अंतर रखने के लिए आशा व एएनएम द्वारा काउंसलिंग के बाद ही महिलाओं को इंजेक्शन लगाया जाएगा। हर तीन महीने के बाद एक इंजेक्शन लगाया जाता है। इस तरह से साल मे चार इंजेक्शन लगायें जाते है। इस इंजेक्शन के उपरांत किसी अन्य साधन का प्रयोग की जरूरत नहीं पड़ती। उन्होने बताया कि गर्भनिरोधक इंजेक्शन से स्तनपान पर किसी प्रकार का दुष्प्रभाव नहीं पड़ता है। जब भी गर्भधारण करना चाहें, इंजेक्शन लगवाना बंद कर दें। गर्भधारण करने से छह माह पहले इंजेक्शन लेना बंद करना होता है।

मिशन परिवार विकास के अंतर्गत आने वाले चंदौली जिले में अंतरा इंजेक्शन लगवाने वाली महिला 100 रुपये की प्रतिपूर्ति राशि और उसके साथ आई आशा कार्यकर्ता को 100 रुपये की प्रोत्साहन राशि सीधे अकाउंट में दी जाती है।

अंतरा का पहला इंजेक्शन लगवाते ही लाभार्थी महिला को इस नम्बर पर (1800-103-3044) कॉल कर अपना नाम रजिस्टर्ड करवाना है, ताकि उन्हें उसके बाद समय पर इन्जेक्शन सम्बन्धी परामर्श की सुविधा मिलती रहे।
रजिस्टर्ड होने के बाद महिला को केयर लाइन से अगले इंजेक्शन की तारीख भी समय-समय पर याद दिलायी जाती रहेगी
इस नंबर पर दी गई सभी सूचनाएं गोपनीय रखी जाती है।
*टोल फ्री नम्बर की सुविधा सुबह 8 से रात 9 बजे तक उपलब्ध है।

*डॉक्टर द्वारा उचित स्क्रीनिंग हो जाने पर गर्भनिरोधक इंजेक्शन को किसी भी समय चुना जा सकता है पर पहली डोज़ लेने पर इन बातो का ख्याल रखना चाहिए
*नियमित मासिक धर्म के पहले से सात दिन के अंदर
*प्रसव के 6 सप्ताह के बाद
•9 गर्भपात के तुरंत बाद ।

•जहाँ इंजेक्शन लगा हो उस जगह मालिश न करें।
•इंजेक्शन की जगह पर गर्म सिंकाई न करें।
•इंजेक्शन लगने के बाद 5-10 मिनट के लिए अस्पताल में ही रुके।
•अंतरा कार्ड पर दी गयी तारीख पर ही इंजेक्शन लगवाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *