प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना का लाभ लेने में दिक्कत आये तो हेल्पलाइन की मदद ले

सच की दस्तक डेस्क चंदौली
प्रधानमन्त्री मातृ वन्दतना योजना के तहत मिलने वाले 5000 रुपए के भुगतान से सम्बगन्धित किसी प्रकार की समस्यार होने पर राज्यम स्त्र पर हेल्पतलाइन जारी कर दिया गया है। इसके अन्तर्गत इस योजना के लाभार्थी अपने आवेदन की स्थिति और भुगतान सम्बमन्धित जानकारी मोबाइल फोन से ही प्राप्ता कर सकते हैं।
मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) डॉ आरके मिश्रा ने योजना के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि इस योजना के तहत प्रथम बार गर्भवती महिलाओं को तीन किश्तोंी में 5000 रुपये की धनराशि सीधे राज्यज स्त र से उनके खाते में स्थापनान्तवरित की जाती है। इस योजना का लाभ आशा कार्यकर्ता, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता या अपने निकटतम प्राथमिक स्वापस्य्तव केन्द्रइ पर जाकर निर्धारित फार्म को भरकर प्राप्त़ किया जाता है। इसके लिए महिला को अपना एकाउंट पासबुक, आधार कार्ड तथा अन्यन सम्बन्धित दस्तावेज जमा करना होता है। अगर गर्भवती महिला ने फार्म भर दिया है और उसके भुगतान में कहीं कोई समस्याा आ रही है तो सीधे राज्यव स्त रीय हेल्पभलाइन नंबर 7998799804 पर सम्प र्क कर सकते हैं। इन हेल्पस लाइन पर सभी प्रकार की समस्याेओं का निराकरण हो सकेगा एवं इस पर फोन करके लाभार्थी अपने फार्म के भुगतान के सम्बपन्धित जानकारी प्राप्ती कर सकते हैं। सीएमओ ने बताया कि इस योजना का विशेष प्रचार-प्रसार भी किया जा रहा है। समस्त जनपदवासियों से अपील किया है कि इस महत्वपूर्ण अभियान का निःशुल्क लाभ उठाने के लिए गर्भवती महिलाओं को तथा उनके परिवार के सदस्यों को प्रेरित करें।
जिला कार्यक्रम समन्वयक प्रिया सिंह ने बताया कि यह योजना जनवरी 2017 से चल रही है जिसके अंतर्गत सरकार द्वारा प्रथम बार गर्भवती और स्तनपान कराने वाली माताओं को उचित खान पान एवं पोषण के लिए 5000 रुपये की आर्थिक सहायता राशि प्रदान की जाती है। यह धनराशि तीन किश्तों में दी जाती है। किसी भी सरकारी स्वास्थ्य केंद्र पर 150 दिनों के अंदर गर्भधारण के पंजीकरण कराने पर प्रथम किश्त के रूप में 1000 रूपये, प्रसव पूर्व कम से कम एक जांच होने पर द्वितीय किश्त के रूप में 2000 रूपये एवं बच्चे के जन्म का पंजीकरण होने व बच्चे के प्रथम चक्र का टीकाकरण पूरा होने पर तृतीय किश्त के रूप में 2000 रूपये दिए जाते है।
जिला कार्यक्रम सहायक धीरज रस्तोगी ने बताया कि योजना के शुरू होने से अभी तक लक्ष्य 44,139 के सापेक्ष अब तक 33,664 लाभार्थी पंजीकृत किये जा चुके है। इस योजना का लाभ अधिक से अधिक लोगों को मिल सके इसके लिए प्रतिदिन इसकी मॉनिटरिंग की जाती है।
न बताएं ओटीपी –
धीरज ने यह भी बताया कि योजना से सम्बन्धित कोई भी प्रतिनिधि लाभार्थी से ओ0टी0पी0 (वन टाईम पासवार्ड) नहीं पूछता है और न ही सवेंदनशील सूचनाएं जैसे एकाउन्ट नम्बर, सी0वी0वी0 पिन मांगता है। यदि कोई व्यक्ति लाभार्थी से इस तरह की जानकारी मांगता है, तो उसे यह जानकारी कतई न दें। इस तरह की जानकारी मांगने वाला व्यक्ति प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना का प्रतिनिधि नहीं हो सकता है।

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x