त्रैमासिक गर्भनिरोधक ‘अंतरा’ इंजेक्शन का हुआ शुभारंभ

सच की दस्तक डेस्क चन्दौली

जनपद चन्दौली मे परिवार नियोजन कार्यक्रम के अंतर्गत तिमाही गर्भनिरोधक ‘अंतरा’ इंजेक्शन की शुरुआत दो चरणों मे की गयी। इस क्रम में वृहस्पतिवार को जनपद के नौगढ़ सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के अंतर्गत तीन उपकेन्द्रों मझगई, अमदहा व मझगवा और एक अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र अंडाहा में अंतरा इंजेक्शन की शुरुआत प्रभारी चिकित्साधिकारी डॉ अवधेश सिंह के नेतृत्व में की गई। इस दौरान 24 महिला लाभार्थियों को अंतरा इंजेक्शन लगाया गया। महिलाओं को अंतरा इंजेक्शन के लाभ और महत्व के बारे में बताया गया। अनचाहे गर्भ को रोकने व दो बच्चों मे तीन साल का अंतर रखने के लिए सरकार द्वारा महिलाओं को स्वास्थ्य केन्द्रों पर नि:शुल्क अंतरा इंजेक्शन की सुविधा दी गयी है। बता दें कि पिछले दिनों चकिया पीएचसी के नौ उपकेन्द्रों सहित दो अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर इस सुविधा की शुरुआत की जा चुकी है।
प्रभारी चिकित्साधिकारी डॉ अवधेश सिंह ने बताया कि परिवार नियोजन के आधुनिक साधन अंतरा इंजेक्शन के लिए अब इच्छुक महिलाओं को उनके नजदीक ही इस सुविधा का लाभ मिल सकेगा। अनचाहे गर्भ को रोकने व दो बच्चों में कम से कम तीन साल का अंतर रखने के लिए आशा व एएनएम द्वारा काउंसलिंग के बाद ही महिलाओं को इंजेक्शन लगाया जाएगा। हर तीन महीने के बाद एक इंजेक्शन लगाया जाता है। इस तरह से साल में चार इंजेक्शन लगाए जाते हैं। इस इंजेक्शन के उपरांत किसी अन्य साधन का प्रयोग की जरूरत नहीं पड़ती। उन्होने बताया कि गर्भनिरोधक इंजेक्शन से स्तनपान पर किसी प्रकार का दुष्प्रभाव नहीं पड़ता है। जब भी गर्भधारण करना चाहें, इंजेक्शन लगवाना बंद कर दें। गर्भधारण करने से सात माह पहले इंजेक्शन लेना बंद करना होता है। इस दौरान डीसीपीएम सुधीर राय, बीपीएम अरविंद सिंह, एएनएम, आशा संगिनी आशा एवं अन्य लोग भी मौजूद रहे।
मिलती है प्रतिपूर्ति राशि
मिशन परिवार विकास के अंतर्गत आने वाले चंदौली जिले में अंतरा इंजेक्शन लगवाने वाली महिला 100 रुपये की प्रतिपूर्ति राशि और उसके साथ आई आशा कार्यकर्ता को 100 रुपये की प्रोत्साहन राशि सीधे अकाउंट में दी जाती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *