पोषण वाटिका में लगाएं पोषणयुक्त वृक्ष पोषण माह

सच की दस्तक न्यूज़ डेस्क चन्दौली

चन्दौली में ग्रामीण क्षेत्रो में रह रही गर्भवती व बच्चों के लिए सुपोषित रहने के लिए पोषण माह के तहत एक नई पहल पोषण वाटिका पर विशेष जोर दिया जा रहा है। पोषण वाटिका के जरिये जागरूकता के साथ उपज को बढ़ावा देने की ज़िम्मेदारी आंगनबाड़ी कार्यकर्ता दी गयी है। सामुदायिक स्तर पर हरी साग सब्जी को बढ़ावा देना, इसका लाभ व प्रयोग से गर्भवती व बच्चों को मिल सके तथा उनके लंबाई और वजन को चिन्हित कर उन्हें कुपोषण मुक्त करना आदि इसका उद्देश्य है। इस दौरान कोविड से बचाव के नियमों का पालन करना भी बेहद जरूरी है। यह जानकारी मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ आर के मिश्रा ने दी।
जिला कार्यकार्म अधिकारी नीलम मेहता ने बताया कि जनपद में ब्लॉक स्तर व गाँव में पोषण वितरण कर सभी को जागरूक व सुचारु बनाने के लिए बहुत ही अहम निर्देश दिए गए हैं। पोषण माह अभियान को प्रभावी बनाने के लिए जन जागरूक व सामुदायिक सहयोग के द्वारा अति कुपोषित बच्चों किशोरियों व महिलाओ को आंगनवाड़ी केंद्र, विद्यालयों, शासकीय परिसरों एवं सामुदायिक को जागरूक करना जिससे समुदाय को कुपोषण मुक्त किया जा सके। बीते छह महीने में देश गंभीर परिस्थिति से गुजर रहा है जिसमें सभी का दायित्व है कि ऐसे दौर में जन आंदोलन की तरह पोषण माह दिवस के मध्यम से जागरूक कर बीमारी और कुपोषण से बचाया जा सके और कुपोषित मुक्त भारत का निर्माण किया जा सके। उन्होने बताया कि वृक्षारोपण का अभियान चलाकर पोषण वाटिका बनाने को प्रोत्साहित किया जाए जिससे कुपोषण को कम किया जा सके। घर के आँगन में ऐसे पौधों को लगाने के लिए सामुदायिक को प्रोत्साहित किया जाए हरी सब्जियां, ताज़ा हरी साग को नियमित आहार मे शामिल किया जा सके जिससे शत-प्रतिशत कुपोषण मुक्त किया जा सके।

पीडीडीयू पटेल नगर वार्ड 18 की आँगनवाड़ी कार्यकर्ता ममता विश्वकर्मा ने बताया कि आँगनबड़ी केंद्र और घर-घर जाकर पुष्टाहार वितरण का कार्य कर रही हैं। साथ ही बच्चों का वजन उसकी लंम्बई भी नापते है और घर के आँगन में वृक्षारोपण भी कर रहे है। हरी साग सब्जी व नींबू आदि पौधों की उपयोगिता की जानकारी भी दे रही हैं।
आँगनवाड़ी कार्यकर्ता कोविड के नियमों का पालन के निर्देश के साथ ही गर्भवतियों व बच्चो को साफ सफाई पर विशेष ध्यान देने के साथ ही सभी को जागरूक कर रहे है कि अब नियमित जनजीवन होने से सब की ज़िम्मेदारी बढ़ गयी है। बिना फेस मास्क बाहर न जाएं। हाथों को समय-समय पर सैनिटाइजर करते रहें। बाहर से घर आयें तो साबुन से हाथ पैर को साबुन से अच्छी तरह से जरूर धोएँ।

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x