लोकनाथ ने क्षेत्र और समाज के लिए किया आजीवन संघर्ष- हरि वंश

सच की दस्तक न्यूज़ डेस्क चंदौली

स्वतंत्रता संग्राम सेनानी व भूतपूर्व विधायक लोकनाथ सिंह क्षेत्र और समाज के लिए आजीवन संघर्ष किया। इन्होंने सर्व प्रथम इस क्षेत्र मे शिक्षा की अलख जगायी।समाज के लिए कई बेहतरीन कार्य करते हुए लोक नाथ को जनता ने विधायक बना दिया।जिससे उनको क्षेत्र के साथ देश की सेवा करे का मौका मिला। इस तकनीक युग मे लोग जितना तकनीक ज्ञान को तबज्जो दे रहे उतना साहित्य को नही हमे साहित्य को भी तबज्जो देना होगा। उक्त बाते उपसभापति राज्य सभा के हरिवंश नारायण सिंह बतौर मुख्य अतिथि लोक नाथ पुण्य स्मृति समारोह के प्रथम सत्र दौरान बोले। प्रथम सत्र समारोह का सुरूआत मुख्य अतिथि ने बाबा कीनाराम व लोकनाथ के समृति चिन्ह पर माल्यार्पण व दीप प्रज्वलित कर किया।
समारोह केदुसरे सत्र के मुख्य अतिथि सपा के सकलडीहा विधायक प्रभुनारायण सिंह यादव रहे। उन्होंने भी बाबा कीनाराम व लोकनाथ के समृति चिन्ह पर माल्यार्पण व दीप प्रज्वलित कर किया कार्य क्रम की सुरुआत करते हुए कहा। बाबु लोकनाथ प्रतिभा के धनी ब्यक्ति थे। शिक्षा के साथ खेल-कूद मे भी रूचि लेते थे। कुश्ती मे स्वयं रूचि लेते हुए पहलवानो को राष्ट्रीय स्तर पर प्रतिभाग करने के लिए तैयार किया। विधायक रहते हुए जहा क्षेत्र मे शिक्षा को प्रोत्साहित किया वही।स्वतंत्रता सेनानी रह कर देश के लिए काम किया।
समारोह में ध्रुव कुमार त्रिपाठी आसुतोष सिंह प्रो संत कुमार त्रिपाठी जय प्रकाश पाण्डेय राजेन्द्र पाण्डेय ने बिचार ब्यक्त किया प्रथम सत्र की अध्यक्षता महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ के कुल पति डा टीएन सिंह व दुसरे सत्र की अध्यक्षता डाक्टर घनश्याम ने किया
इस दौरान अखिलेश अग्रहरि विरेन्दर यादव हंश राज यादव संदीप सिंह विजय सिंह संजय सिंह भृगुनाथ पाठक नन्दू गुप्ता संदीप यादव सुबास यादव सहित सैकड़ों लोग मौजूद रहे। अतिथियो का स्वागत स्वागत लोकनाथ स्नातकोत्तर महाविद्यालय के प्रबंधक धनंजय सिंह स्मृति चिन्ह व अंगवस्त्र देकर किया

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x