विश्व हिन्दू परिषद के कार्यकर्ताओं किया संकीर्तन

सच की दस्तक डेस्क चन्दौली
रामजन्म भूमी पूजन पर विहिप कार्याकर्ताओं ने किया संकीर्तन
चहनिया क्षेत्र के ग्राम सभा भलेहटा में विश्व हिन्दू परिषद के प्रखण्ड जितेन्द्र मिश्र के सानिध्य में दर्जनों कार्यकर्ताओं ने अयोध्या में चल रहे भगवान श्रीराम के भूमि पूजन के समय प्रभु श्रीराम के नाम का संकीर्तन करते रहे। तत्पश्चात प्रभु श्रीराम की आरती उतार कर लेागों में प्रसाद का वितरण किया गया।
प्रखण्ड अध्यक्ष जितेन्द्र मिश्र ने बताया कि प्रभु श्री राम का जन्म 5114 ई में अयोध्या में हुआ था। कलियुग के 711वें ई में मुगलशासकों का भारत में आगमन हुआ और उनका ध्येय हिन्दुओ के धर्म को ठेस पहुचाना और भारत पर राज्य करना था जैसे-जैसे समय बदला वैसे-वैसे मुसलमानों ने अपना पाव पसार हिन्दुओ के मन्दिरों को नुकसान पहुचाया जाने लगा। जिसमें बाबर द्वारा 1527-28 ई में पहली बार राम मन्दिर को तोड़ा जाने लगा। जिस पर छोटे-छेाटे हिन्दु राजाओं ने उसका कड़ा विरोध कर अपनी जाने गवाई लगतार मुस्लिम शासको द्वारा राम मन्दिर पर कब्जा किये जाने और लगातार हिन्दुओे द्वारा उसकी रक्षा की जाने लगी। जिसमें लगभग 174हजार।हिन्दुओ ने अपनी जाने गवाई इतना ही बल्कि महाराज रणविजय सिंह के सही होने पर उनकी पत्नी रानी जयराज कुमारी ने राममन्दिर को बचाने हेतु 3 हजार महिलाओं की सेना तैयार छापेमार युद्ध करने मुगलो के पसीने छूड़ा दिये।
लेकिन आतताई मुगल शासको द्वारा उन्हे भी बीर गति पहुचाई गयी। जब-जब सनातन धर्म के लोग एकत्र होते गये तब-तब खून की होली खेली गयी लेकिन आजदी के बाद एक बार पुनः विश्व हिन्दू परिषद के बैनर तले 30अक्टूर1990 को
अयोध्या पहुचे लेकिन दुर्भाग्य वश उस समय समाजवादी पार्टी के मुखियां मुलायम सिंह यादव उत्तर प्रदेश की कुर्सी संभाल रहे थे कि उन्होने 2नवबर 1990को रामभक्तों पर गोलिया बरसाने का आदेश दे डाला। जिसमे हजारो कारसेवक
मौत की नीद सेा गये। बावजूद उसके जब तक राम मन्दिर का निर्माण नही तब तक रामभक्त नही माने अन्ततः 6दिसम्बर 1992को बाबरी मस्जिद का विध्वस कर डाला
और एक बार पुनः 5अगस्त को बुद्धवार को भारत में प्रधानमंत्री द्वारा मर्यादा पुरूषेात्तम राम के आदर्शो पर चलकर मर्यादापूर्ण तरीके से मन्दिर निर्माण हेतु भूमी पूजन किया। जिससे देश व विदेश के कोने-कोने के लेाग
अपने प्रभु श्रीराम के मन्दिर बनने की खुशियों में झूम उठे। कोरोना जैसी घातक महामारी के कारण के लोग भूमी पूजन के समय अपने-अपने घरों में प्रभु श्रीरम के नाम का संकीर्तन करने लगे। चारो तरफ जय श्रीराम के उद्घोष से पूरा क्षेत्र राममय बना रहा । इस दौरन उपेन्द्र नाथ मिश्र, कमलेश सिंह, कालीचरण सिंह, राजेश सिंह, तरूण त्रिपाठी, सुनील कुमार सिंहव नन्हे मुन्हे बच्चे कांधा व कार्तिक मौजूद रहे।

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x