अलगाववादी नेता यासीन मलिक पर केंद्र सरकार की बड़ी कार्रवाई, JKLF पर लगाया बैन-

  • एंटी-टेरर एक्ट के तहत लगाया गया प्रतिबंध
  • आतंकी संगठनों के साथ संबंधों का है आरोप
  • इससे पहले जमात-ए-इस्लामी पर भी लगाई गई रोक

जम्मू-कश्मीर के अलगाववादी नेता यासीन मलिक के संगठन जम्मू-कश्मीर लिबरेशन फ्रंट (जेकेएलएफ) के खिलाफ़ केंद्र सरकार ने बड़ी कार्रवाई की है। सरकार ने उनके संगठन पर बैन लगा दिया है। यह प्रतिबंध एंटी-टेरर एक्ट के तहत लगाया गया है।

जेकेएलएफ पर आतंकी संगठनों के साथ संबंधों का आरोप है। इससे पहले सूत्रों के हवाले से खबर आई थी कि कई अलगाववादियों के खिलाफ़ प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) भी कार्रवाई कर सकता है। इससे पहले शुक्रवार को ही ईडी ने घाटी के अलगाववादी नेता सैयद अली शाह गिलानी के खिलाफ कार्रवाई की थी।

बता दें, जम्मू-कश्मीर में अलगाववादी नेताओं और उनके संगठनों पर केंद्र सरकार लगातार कार्रवाई कर रही है। इसी के तहत शुक्रवार को मोदी सरकार ने जम्मू-कश्मीर के अलगाववादी संगठन जम्मू-कश्मीर लिबरेशन फ्रंट पर प्रतिबंध लगाया है।

गैरकानूनी गतिविधि रोकथाम अधिनियम के तहत हाल ही में जमात-ए-इस्लामी पर भी बैन लगाया गया था। राज्य में पुलवामा हमले के बाद से ही सभी संदिग्ध गतिविधियों पर सुरक्षा एजेंसियां नजर रख रही हैं।

एम मीडिया रिपोर्ट के अनुसार- हाल ही में राज्य के लगभग 600 शिक्षकों को ‘प्रतिकूल सूची’ में डाल दिया गया था। इसके अनुसार- इन सभी के परिजनों का संदिग्ध तौर पर किसी आतंकी संगठन से संबंध होने की बात कही गई थी।

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x