नुपूर शर्मा के खिलाफ आजमगढ़ में ‘सिर तन से जुदा के नारे’ लगवाने वाला छात्रनेता अब्दुल रहमान गिरफ्तार। हिंदुओं पर की थी टिप्पणी, कहा था , “इन 80 करोड़ को रखूँगा पैर की नोक पर।”

उत्तर प्रदेश के आज़मगढ़ जिले में शिब्ली नेशनल पीजी कॉलेज के अध्यक्ष अब्दुल रहमान को भड़काऊ बयान देने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। रहमान ने 80 करोड़ लोगों को पैर की नोक पर रखने के साथ और भी कई अन्य आपत्तिजनक बातें कहीं थीं। रहमान ने यह बयान मोहम्मद जुबेर द्वारा भड़काए जाने के बाद भाजपा प्रवक्ता नूपुर शर्मा के विरोध में चल रहे अभियान के दौरान दिया है। आजमगढ़ पुलिस ने रहमान की गिरफ्तारी की पुष्टि 29 मई 2022 (रविवार) को की है।

वायरल हो रहे वीडियो में अब्दुल रहमान के आस-पास हाथों में पोस्टर ले कर भीड़ जमा है। रहमान उस भीड़ को संबोधित करते हुए कह रहा, “लोग यहाँ खड़े हैं उनसे अपील है कि मुसलमान का कोई भी मसला हो और खास कर नबी सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम का कोई मसला हो तो हमें डंके की चोट पर खड़े होना है। मैं तो कहता हूँ कि ये 80 करोड़ हों, 80 हजार हों या 80 अरब हों। अगर मोहम्मद की बात आ गई तो मैं 80 अरब को अपने पैर की नोक पर रखता हूँ।”

रहमान के इस बयान का वहाँ मौजूद भीड़ समर्थन करते हुए ‘नारा ए तकबीर, अल्लाह हु अकबर’ का नारा लगाती है। उसी भीड़ में सफेद टी शर्ट पहन कर एक अन्य व्यक्ति अपने साथ वहाँ मौजूद बाकी लोगों से कहलवा रहा, “गुस्ताख़-ए-रसूल की बस एक ही सजा- सिर तन से जुदा, सिर तन से जुदा।” वायरल हो रहा यह वीडियो 28 मई 2022 (शनिवार) शाम लगभग 7.30 का बताया जा रहा है।

आज़मगढ़ पुलिस के SP सिटी शैलेंद्र लाल के मुताबिक, “ट्विटर से संज्ञान में आया कि शिबली कॉलेज के पास अब्दुल रहमान ने भड़काऊ भाषण दिया। इस दौरान नफरत फैलाने की कोशिश की गई। इस संबंध में पुलिस ने केस क्राइम नंबर 242/2022 धारा IPC 295A के तहत कार्रवाई की। अब्दुल रहमान नाम के व्यक्ति को हिरासत में ले कर पूछताछ व कानूनी कार्रवाई की जा रही है।”

भीड़ जमा करने वालों में सरफराज अहमद भी

आपत्तिजनक नारेबाजी करने वाली इस भीड़ को जुटाने के लिए अब्दुल रहमान के साथ सरफराज अहमद ने भी बड़ी भूमिका निभाई थी। सरफराज अहमद शिब्ली कॉलेज से ही लॉ का स्टूडेंट है। उसने 28 मई को ही अब्दुल रहमान के साथ मिल कर स्थानीय पहाड़पुर के चौकी इंचार्ज को अपने प्रस्तावित प्रदर्शन की जानकारी देने का दावा किया है। इस बाबत उन्होंने एक पत्र भी शेयर किया है। हालाँकि पुलिस को भेजे गए इस पत्र में शाँतिपूर्ण प्रदर्शन करने का वादा किया गया था।

         अब्दुल रहमान द्वारा प्रेषित पत्र

Sach ki Dastak

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x