फरार : भाग निकला मलाला यूसुफजई को गोली मारने वाला आतंकी!

नई दिल्ली।

मलाला को गोली से उड़ाने वाला पाकिस्तानी तालिबान का पूर्व प्रवक्ता एहसानुल्ला एहसान पाकिस्तान की जेल से फरार हो गया है। यह जानकारी उसने खुद ऑडियो टेप पर जारी कर दी है।

यह वही आतंकी हैं जिसने पाकिस्तान के पेशावर स्कूल पर साल 2014 को आतंकी हमले की साजिश रची थी। उसका यह ऑडियो टेप सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है जिसमें वह बता रहा है कि वह कैसे 11 जनवरी को पाकिस्तान की जेल से फरार हुआ है। फरार होने की वजह बताते हुए आतंकी ने कहा कि वह इसलिए फरार हुआ क्योंकि पाकिस्तान सरकार ने उससे किए हुए वादों को पूरा नहीं किया।

ऑडियो टेप में कितनी सच्चाई है इसका तो फिलहाल कुछ पता नहीं चल पाया है लेकिन अगर एहसान सच में फरार हो गया है तो यह पाकिस्तान के सुरक्षा इंतजामों पर करारा तमाचा है।

कौन है मलाला यूसुफजई?
पाकिस्तान के खैबर पख्‍तूनख्‍वाह प्रांत में जन्मी मलाला यूसुफजई को कौन नहीं जानता, वो लड़की जिसने सिर्फ 11 साल की उम्र में पढ़ाई के लिए अपनी आवाज उठाई। जब तालिबान ने साल 2007 से मई 2009 तक स्वात घाटी पर कब्जा किया तो लड़कियों का स्कूल जाना बंद हो गया, न सिर्फ स्कूल बल्कि डांस और ब्यूटी पार्लर पर भी बैन लग गया था। इस बीच मलाला सबके लिए एक उम्मीद की किरन बनकर उभरी।
मलाला ने स्कूल बंद होने के खिलाफ आवाज उठाई लेकिन 9 अक्टुबर साल 2012 उनके जीवन का सबसे काला दिन साबित हुआ जब तालिबानी आंतकी एक बस में घुसे और पूछा- मलाला कौन है? खैबर पख्तूनख्वा प्रांत के स्वात घाटी में मलाला अपने साथियों के साथ स्कूल जाती थी। बस में खामोशी के साथ बैठे सभी लोगों के बीच आतंकी ने मलाला को पहचान लिया और सीधा उसके सिर पर गोली चला दी। गंभीर रूप से घायल मलाला को इलाज के लिए ब्रिटेन ले जाया गया। लोगों की प्रार्थनाओं से मलाला बच गई और आज वह स्वस्थ है। बता दें कि मलाला को सबसे कम उम्र में दुनिया का सबसे प्रतिष्ठित नोबेल पुरस्कार मिला।

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x