काबुल में 150 भारतीयों के अपहरण की खबर गलत, सभी लोग सुरक्षित

तालिबान से जुड़े सूत्रों ने बताया कि हमने काबुल एयरपोर्ट के पास किसी भारतीय को अगवा नहीं किया, बल्कि उन्हें दूसरे सुरक्षित रास्ते से एयरपोर्ट ले गए हैं.

काबुल. अफगानिस्‍तान (Afghanistan) की राजधानी काबुल में करीब 150 भारतीयों के अपहरण की खबर को भारत सरकार से जुड़े सूत्रों ने गलत बताया है. सूत्रों ने बताया कि सभी भारतीय पूरी तरह सुरक्षित हैं. उन्होंने कहा कि हम भारतीय की सुरक्षा के वादे और इसमें सहयोग के लिए स्थानीय अधिकारियों का धन्यवाद करते हैं.

वहीं तालिबान के अनुसार हमने काबुल एयरपोर्ट के पास किसी भारतीय को अगवा नहीं किया, बल्कि उन्हें दूसरे सुरक्षित रास्ते से एयरपोर्ट ले गए हैं.

दरअसल सूत्रों ने बताया कि एयरपोर्ट की सुरक्षा व्यवस्था भी तालिबान लड़ाकों के लिए नई है. वह यहां यह सुनिश्चित करने में जुटे हैं कि कोई अफगान नागरिक देश छोड़कर नहीं भागे. इसलिए उन्होंने पासपोर्ट आदि की जांच के लिए कुछ भारतीय नागरिकों का रोका था.

इससे पहले अफगान पत्रकारों ने दावा किया था क‍ि अफगानिस्‍तान की राजधानी काबुल (Kabul) में इंटरनेशनल एयरपोर्ट की ओर जा रहे तालिबान (Taliban) लड़ाकों ने 150 लोगों का अपहरण कर लिया है, जिनमें से ज्यादातर भारतीय हैं. अफगान पत्रकारों के मुताबिक अपहरण किए गए लोगों में अफगान के नागरिक और अफगानिस्‍तान में रहने वाले सिख भी शामिल हैं.सूत्रों के मुताबिक एक शख्‍स ने बताया कि वह अपनी पत्‍नी और बच्‍चों के साथ एयरपोर्ट की ओर जा रहा था लेकिन वह किसी तरह तालिबानी लड़ाकों से बचकर भाग निकला. उसने बताया कि रात के करीब एक बजे वे सभी 8 मिनी वैन में बैठकर काबुल एयरपोर्ट की ओर जा रहे थे. हम सभी काबुल एयरपोर्ट के अंदर घुसने ही वाले थे कि वहां पर तालिबान के लड़ाके पहुंच गए और उन्‍होंने हमें रोक लिया.

वहीं अफगानिस्तान में विकट हो रहे हालात के बीच भारतीयों को निकालने का काम जारी है. खबर है कि शनिवार को भारतीय वायुसेना का सी-130जे विमान 85 भारतीयों को लेकर काबुल से उड़ान भर चुका है. समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार सूत्रों ने बताया, ‘ईंधन भरवाने के लिए विमान तजिकिस्तान में उतरा है. भारतीय नागरिकों को निकालने में काबुल में मौजूद भारतीय सरकारी अधिकारी मदद कर रहे हैं.’ बीते मंगलवार को ही करीब 120 भारतीय नागरिकों को लेकर वायुसेना का सी-17 ग्लोबमास्टर भारत पहुंचा था.

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x